स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

असम बाढ़: देखी बॉलीवुड के 'खिलाडी कुमार' की दरियादिली, राहत के लिए देंगे 2 करोड़

Prateek Saini

Publish: Jul 17, 2019 22:45 PM | Updated: Jul 17, 2019 22:45 PM

Guwahati

Assam Flood Situation: अक्षय ( Akshay Kumar ) के इस कदम के लिए मुख्यमंत्री ( Assam CM ) ने प्रशंसा करने के साथ ही कहा कि अभिनेता ( Akshay Kumar On Assam Flood ) ने जो मानवीयता राज्य के बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए दिखाई है, वह अन्य को भी प्रेरित करेगी।

(गुवाहाटी,राजीव कुमार): बॉलीवुड के ‘खिलाड़ी’ लोकप्रिय अभिनेता अक्षय कुमार ( Akshay Kumar ) ने असम के बाढ़ ( Assam Flood ) पीडि़तों और काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान ( Kaziranga National Park ) के जीव-जंतुओं के लिए दो करोड़ रुपए देने की घोषणा की है। अक्षय ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 करोड़ और बाढ़ प्रभावित काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान के जीव-जंतुओं के लिए एक करोड़ की राशि देने की घोषणा की है। अक्षय के इस कदम के लिए मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ( Sarbananda Sonowal ) ने प्रशंसा करने के साथ ही कहा कि अभिनेता ने जो मानवीयता राज्य के बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए दिखाई है, वह अन्य को भी प्रेरित करेगी। मालूम हो कि अक्षय ने ट्विटर पर यह जानकारी दी। साथ ही उन्होंने अन्य से अपील की है कि वे भी मदद का हाथ आगे बढ़ाए।

 

५७ लाख लोग चपेट में

इसी बीच में राहत की यह ख़बर है कि असम में दो दिनों से बारिश कम हो रही है। कम बारिश से थोड़ी राहत मिली है। ऊपरी असम में बाढ़ का पानी कम होने लगा है। पर निचले असम की हालत अभी भी ख़राब हैै। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने ताजा रिपोर्ट साझा की है। इसके अनुसार 29 जिलों के 114 राजस्व चक्र के 4626 गांव के 57 लाख 51 हजार 938 लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। दु:ख की बात यह है कि पिछले 24 घंटों में 10 और लोगों की मौत हो गई। रिपोर्ट के अनुसार उदालगुड़ी में 2, शोणितपुर में 2, कामरूप मेट्रो में 1, मोरिगांव में 4 और नगांव में 1 व्यक्ति की मौत हो गई। बाढ़ में अब तक 28 लोगों के मरने की ख़बर है। जबकि भूस्खलन ने भी 2 लोगों को मौत की नींद सुला दिया।

 

यह जिले हुए हैं सबसे ज्यादा प्रभावित

 

Assam Flood Situation

बाढ़ प्रभावित जिलों में धेमाजी, डिब्रुगढ़, कछार,लखीमपुर,नगांव, विश्वनाथ, दरंग, शोणितपुर, उदालगुड़ी, बाक्सा, बरपेटा, कामरूप, नलबाड़ी, चिरांग, बंगाईगांव, कोकराझाड़, धुबड़ी, दक्षिण सालमारा, ग्वालपाड़ा, कामरूप (मेट्रो), मोरिगांव, होजाई, गोलाघाट, माजुली, जोरहाट, शिवसागर, तिनसुकिया, कार्बी आंग्लांग और करीमगंज शामिल हैं।

 

39 जानवारों की मौत

बाढ़ से अब तक 1,73,312 हेक्टेयर फसल को नुकसान हुआ है। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में बाढ़ का पानी अब घटने लगा है। 13 जुलाई से अब तक 39 वन्य जंतुओं की मौत हो गईं। 169 शिविर जलमग्न हैं, जबकि 22 शिविरों को स्थानांतरित कर दिया गया हैै।

असम की ताजा ख़बरें पढने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़े: बाढ़ से उभरा ऊपरी असम, बाकी भाग में अभी भी हाहाकार, अब तक 28 की मौत