स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हरियाणा में लोकतंत्र के महापर्व में मतदाता आज देंगे आहुति

Devkumar Singodiya

Publish: Oct 20, 2019 18:41 PM | Updated: Oct 20, 2019 18:55 PM

Gurgaon

डेढ़ करोड़ से ज्यादा मतदाता करेंगे मतदान:
हरियाणा प्रदेश में एक करोड़ 83 लाख मतदाता मताधिकार का प्रयोग करेंगे। पोलिंग पार्टियों और पुलिस ने मतदान केन्द्रों पर मोर्चा संभाल लिया है।

गुरुग्राम. हरियाणा में 14वीं विधानसभा के लिए लोकतंत्र के महापर्व का आयोजन सोमवार को होगा। रविवार होने के बावजूद चुनाव आयोग की टीमें तथा पुलिस के आला अधिकारी जहां दिनभर चंडीगढ़ मुख्यालय पर बैठकों का आयोजन कर पूर्व निर्धारित रणनीति में आमूलचूल परिवर्तन करते रहे। वहीं चुनावी रण में उतरे प्रत्याशी भी प्रचार समाप्त होने के बाद आरपार की लड़ाई लड़ते नजर आए। जिन नेताओं के लिए यह चुनाव प्रतिष्ठा का सवाल बना हुआ है उन्होंने विरोधियों के खेमे में सेंध लगाने की नीति को अमली रूप दिया।
चुनाव आयोग के कंट्रोल रूम में दिनभर चहल-पहल रही। पोलिंग पार्टियों को मतदान सुचारू रूप से संपन्न करवाने के लिए सामान अलॉट कर मतदान केंद्रों के लिए रवाना किया गया। दूसरी तरफ सियासी दलों के नेताओं ने भी मतदान केंद्रों में बैठने वाले अपने एजेंटों को चुनावी बस्ते देकर रवाना किया।

यह रहेगी मतदाताओं की गणित

मतदान के दौरान कुल एक करोड़ 83 लाख 90 हजार 525 मतदाता हैं, जिनमें 1 लाख 7 हजार 955 सर्विस वोटर शामिल हैं। इनमें 98 लाख 78 हजार 42 पुरुष मतदाता, 85 लाख 12 हजार 231 महिला मतदाता और 252 थर्ड जेंडर मतदाता हैं। राज्य में कुल 19578 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, इनमें 19,425 रेगुलर और 153 सहायक मतदान केंद्र हैं। शहरी क्षेत्र में 5741 और ग्रामीण क्षेत्र में 13,837 मतदान केंद्र हैं। विधानसभा चुनावों के लिए कुल 29,400 बैलेट यूनिट, 24,899 कंट्रोल यूनिट और 27,611 वीवीपैट मशीनों का उपयोग किया जाएगा।

चंडीगढ़ व दिल्ली में बंद रहेंगे हरियाणा के कार्यालय

मतदान के मद्देनजर हरियाणा सरकार ने सोमवार को सार्वजनिक अवकाश का ऐलान किया है। मतदान के चलते सभी सरकारी और अद्र्ध सरकारी कार्यालय, शैक्षणिक संस्थान, बोर्ड, कॉर्पोरेशन व हरियाणा के वह कार्यालय जो चंडीगढ़ और दिल्ली में मौजूद हैं, बंद रहेंगे। इसके अलावा हरियाणा के सभी प्राइवेट प्रतिष्ठानों, दुकानों, फैक्ट्रियों व उद्योगों में भी इस दिन छुट्टी रहेगी। सभी प्राइवेट प्रतिष्ठान इस छुट्टी को पेड लीव समझेंगे, यानी कर्मचारियों को इस छुट्टी का वेतन भी मिलेगा।

1168 उम्मीदवारों के बीच मुकाबला

हरियाणा विधानसभा में पहुंचने के लिए 90 विधानसभा सीटों पर 1168 उम्मीदवारों के बीच मुकाबला होगा। कुल 1846 उम्मीदवारों ने पर्चे दाखिल किए थे। हरियाणा के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. इंद्रजीत ने बताया कि अंबाला में कुल 36, झज्जर में 58, कैथल में 57, कुरुक्षेत्र में 44, सिरसा में 66, हिसार में 118, यमुनानगर में 46, महेंद्रगढ़ में 45, चरखी दादरी में 27, रेवाड़ी में 41, जींद में 63, पंचकूला में 24, फतेहाबाद में 50, रोहतक में 58, पानीपत में 40, मेवात में 35, सोनीपत में 72, फरीदाबाद में 69, भिवानी में 71, करनाल में 59, गुरुग्राम में 54, पलवल में 35 उम्मीदवार चुनाव मैदान में रह गए हैं।

संवेदनशील मतदान केंद्रों पर रहेगी पैनी नजर

मतदान के दौरान सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों की शिनाख्त की जा चुकी है। इसके चलते 60 स्थानों पर 83 मतदान केंद्रों की पहचान क्रिटिकल और 1,419 स्थानों पर 2,923 मतदान केंद्रों की पहचान वल्नरेबल के रूप में की गई है।
चुनाव प्रक्रिया को सुचारू रूप से संपन्न करवाने के लिए 75,000 से अधिक सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की 130 कंपनियों ने समूचे प्रदेश में मोर्चा संभाला हुआ है। इसके अलावा राज्य पुलिस के 26,896 सिपाही, 22,806 होमगार्ड, 7,936 विशेष पुलिस अधिकारी और 6,001 पुलिस ट्रेनिज को चुनाव ड्यूटी में लगाया गया है। साथ ही 21 वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया है।

हरियाणा के अधिक समाचार पढऩे के लिए यहां क्लिक करें...
पंजाब के अधिक समाचार पढऩे के लिए यहां क्लिक करें...