स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

तेजाब की खरीद फरोख्त नहीं होगी आसान, पूछा जाएगा नाम पता और उद्देश्य, जुर्माना 50 हजार रुपए

Devkumar Singodiya

Publish: Jan 18, 2020 18:28 PM | Updated: Jan 18, 2020 18:28 PM

Gurgaon

विक्रेता के घोषित स्टाक से अधिक मात्रा में एसिड़ पाया जाता है तो उसे जब्त किया जाएगा। विक्रेता पर 50 हजार रुपए तक जुर्माना किया जा सकता है।

फिरोजपुर झिरका/गुरुग्राम. (गणेश सिंह चौहान) नियमों की अवहेलना कर खुले बाजार में ऐसिड़ बेचने वाले दुकानदारों पर प्रशासन शिकंजा कसेगा। इसके लिए एसड़ीएम नूंह ने खाद्य एंव आपूर्ति विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर उनको आदेश दे दिए हैं कि वे निरंतर निगरानी रखें।

एसडीएम नूंह प्रदीप अहलावत ने जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक व अन्य संबधित अधिकारियों की बैठक में कहा कि खुले बाजार में निर्धारित सीमा व रिकार्ड़ रखकर ही एसिड़ की बिक्री के निर्देश दिए हुए हैं। जबकि बाजार में कुछ विक्रेता इन नियमों की अवहेलना करते हुए एसिड़ बेच कर रहें हैं।

रखना पड़ेगा लेखा जोखा

सभी एसिड़ विक्रेता यह सुनिश्चत कर लें, कि एसिड़ बेचने का पूरा लेखा जोखा स्टॉक व जिस व्यक्ति को एसिड़ बेची व कितनी मात्रा में बेची गई, उसका पूरा रिकार्ड़ रखेंगे। एसिड़ खरीदने वाले के पास सरकार का जारी पहचान पत्र, जिस पर उसका पूरा पता लिखा हो तथा एसिड खरीदने का उद्ेश्य क्या है। उन्होंने बताया कि सभी एसिड़ विक्रेताओं को संबंधित एसड़ीएम को 15 दिन में एसिड़ स्टाक की सूचना देनी होगी। कोई भी एसिड़ विक्रेता 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति को एसिड़ नहीं बेच सकता।

... तो जुर्माना होगा 50 हजार रुपए

उपमंडल अधिकारी द्वारा यदि चैकिंग के दौरान विक्रेता के घोषित स्टाक से अधिक मात्रा में एसिड़ पाया जाता है तो उसे जब्त किया जाएगा। विक्रेता पर 50 हजार रुपए तक जुर्माना किया जा सकता है। जिले में ड्रग कंट्रोलर व पुलिस के साथ इस बारे में चैकिंग की जा सकती है।


हरियाणा की अधिक खबरों के लिए क्लिक करें...
पंजाब की अधिक खबरों के लिए क्लिक करें...

[MORE_ADVERTISE1]