स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हरियाणा में आइपीएस एचपीएस की सम्पत्तियों की होगी जांच

Devkumar Singodiya

Publish: Nov 25, 2019 00:46 AM | Updated: Nov 25, 2019 00:46 AM

Gurgaon

मानेसर गुरुग्राम होंडा मोटरसाइकिल कंपनी की सुरक्षा पुलिस और प्रशासन का दायित्व है। कंपनी के अधिकारी और श्रमिकों के बीच बैठकर मामले को सुलझाने का प्रयास किया जाएगा।

गुरुग्राम. (गणेश सिंह चौहान) हरियाणा का गृह मंत्रालय आईपीएस और एचपीएस के अलावा कई पुलिस अधिकारियों की संपत्ति का लेखा-जोखा जांचेगा। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने राजस्थान पत्रिका के साथ बातचीत में यह बात कही। उन्होंने कहा कि थाने में तैनात थानेदार आने वाले सभी पीडि़तों की शिकायत को ध्यान से सुनें। इसमें लापरवाही सामने आई तो थानेदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं है और प्रदेश में उद्योगों की सुरक्षा गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी है।

उद्योगों की सुरक्षा मेें कोताही बर्दाश्त नहीं

गृह मंत्री अनिल विज ने पुलिस अधिकारियों को आदेश दिया है कि भ्रष्टाचार के मामले में जीरो टालरेंस की नीति है। ऐसे में किसी तरह का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। प्रदेश भर में अनेक बड़े उद्योग हैं और उद्योगपतियों की सुरक्षा का दायित्व पुलिस प्रशासन का है, बेवजह किसी उद्योगपति को परेशान किया जाना चाहिए न उद्योगों की सुरक्षा में कोताही बरती जानी चाहिए। मानेसर गुरुग्राम होंडा मोटरसाइकिल कंपनी की सुरक्षा के सवाल पर उन्होंने कहा कि कंपनी के अधिकारी और श्रमिकों के बीच बैठकर मामले को सुलझाने का प्रयास किया जाएगा।

पूर्व सीएम पर भी बरसे

गृह मंत्री अनिल विज ने धान घोटाले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर प्रहार करते हुए कहा कि हुड्डा को तो घोटाले दिखाई देते हैं, क्योंकि उनकी सरकार में लगातार 10 साल घोटाले ही हुए हैं। हुड्डा का एक पैर घोटाले में होता है तो दूसरा कोर्ट में। वे कभी भी जेल जा सकते हैं।

 

हरियाणा की अधिक खबरों के लिए यहां क्लिक करें...
पंजाब की अधिक खबरों के लिए यहां क्लिक करें...

[MORE_ADVERTISE1]