स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सुधरो...वरना हरियाणा से जाने को रहो तैयार

Satyendra Porwal

Publish: Dec 02, 2019 23:55 PM | Updated: Dec 02, 2019 23:55 PM

Gurgaon

ऑपरेशन प्रहार: होशियार...खबरदार। अपराधियों को हरियाणा डीजीपी की चेतावनी।
पहले हफ्ते में भारी मात्रा में मादक पदार्थ व अवैध शराब जब्त।
गृह मंत्री के आदेश पर चलाया जा रहा अभियान।

(चंडीगढ़). संगठित अपराध व मादक पदार्थ तस्करी में शामिल समाजकंटक या तो मुख्यधारा में शामिल हो जाएं, अन्यथा राज्य छोड़ कर चले जाएं। यह कोई सामान्य चेतावनी नहीं है, बल्कि हरियाणा सरकार का मिशन है कि उनके राज्य में अपराध करने वालों के लिए कोई जगह नहीं है। हरियाणा में नई सरकार के गठन के साथ ही ना सिर्फ सरकार बल्कि तमाम सरकारी विभाग को सरकार ने मुस्तैद कर दिया है कि प्रदेश का विकास ही मुख्य मकसद है, ऐसे में कोताही बरतने वालों की अब खैर नहीं है। अपराध के मामलों में तो पिछले हफ्ते के पुलिस के परिणाम खुद सरकार की कथनी व करनी को एक समान साबित करने वाले रहे हैं।
पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने बताया कि गृह मंत्री अनिल विज ने पुलिस विभाग को राज्य से संगठित अपराधियों, मादक पदार्थ तस्करों सहित अन्य अपराधियों का खात्मा करने के निर्देश दिए थे।

संगठित अपराध पर चौतरफा हमला।
प्रदेश को पूरी तरह से नशामुक्त बनाने की सरकार की प्रतिबद्धता के अनुरूप, हरियाणा पुलिस द्वारा संगठित अपराध पर चौतरफा हमला करते हुए राज्य भर में चलाए जा रहे ऑपरेशन प्रहार के तहत 20 से 27 नवंबर, 2019 तक 43 किलोग्राम से अधिक मादक पदार्थ और 52137 बोतल अवैध शराब जब्त की गई। पुलिस ने सट्टा व जुआ अधिनियम के तहत 395 लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 15 लाख 14 हजार रुपए से अधिक राशि भी बरामद की है। पुलिस ने मानव तस्करी व कबूतरबाजी के 7 मामले दर्ज कर इस सिलसिले में एक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है।
पहले हफ्ते में 20 से 27 नवंबर तक, पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत 75 मामले दर्ज कर ड्रग पेडलिंग में संलिप्त 88 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अवैध शराब की संबंधित धाराओं के तहत 151 मामले और 192 कलंदरे दर्ज करे 347 लोगों को काबू किया है।
गौरतलब है कि गृहमंत्री ने हाल ही 19 नवंबर, 2019 को आयोजित एक बैठक में पुलिस विभाग के कामकाज की समीक्षा करते हुए प्रदेश में संगठित अपराध के खात्मे व बढ़ते नशेे की रोकथाम के लिए ऑपरेशन प्रहार शुरू करने के आदेश दिए थे।
अपराधियों को डीजीपी की चेतावनी
डीजीपी ने संगठित अपराधियों व मादक पदार्थ तस्करी में शामिल समाजकंटकों को चेतावनी देते हुए कहा कि या तो वे मुख्यधारा में शामिल हो जाएं अन्यथा राज्य छोड़ कर चले जाएं।

[MORE_ADVERTISE1]