स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिजली के वाहनों पर केन्द्रित होगी नई ओैद्योगिक नीति

Yuvraj Singh Jadon

Publish: Jul 25, 2017 16:24 PM | Updated: Jul 25, 2017 16:24 PM

Gurdaspur

पंजाब सरकार द्वारा वातावरण पक्षीय बिजली के वाहनों को बड़े स्तर पर उत्साहित करने की योजना बनाई गई है

चडीगढ़। पंजाब सरकार द्वारा वातावरण पक्षीय बिजली के वाहनों को बड़े स्तर पर उत्साहित करने की योजना बनाई गई है और नई औद्योगिक नीति भी विशेष तौर से इस पर केन्द्रित होगी। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने महिन्द्रा एंड महिन्द्रा के मैनेजिंग डायरैक्टर पवन गोयनका के साथ एक बैठक दौरान यह प्रगटावा किया।

गोयनका ने कहा कि उनकी कंपनी पंजाब में बिजली के वाहनों को उत्साहित करने में निवेश के लिए इच्छुक है। उन्होंने राज्य में ग्रीन एनर्जी का प्रसार और रोजगार की उत्पत्ति के लिए बिजली टैक्सियां लाने की स्कीम बनाने का सुझाव दिया।

मुख्यमंत्री ने बताया कि चीन की कंपनी इनलौंग ने हाल ही में राज्य में बिजली कारों और बसों की शुरूआत करने की संभावना संबंधी उनके साथ विचार विमर्श किया था। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा बिजली टैक्सियों के लिए ओला के साथ बातचीत चलाई जा रही है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उनकी सरकार बिजली वाहनों को रिवायती वाहनों का बदल बनाने की इच्छुक है क्योकि जो पेट्रौल व डीजल से चलते वाहन अधिक प्रदूषण का कारण बनते हैं।

बैठक के उपरांत एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि ऊबर जैसी टैै्रक्टरों के लिए भी टरिंगो नाम की ऐप आंरभ करने के प्रस्ताव पर विचार किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि यह ऐप टै्रक्टर मालिकों को अपना वाहन किराये पर देने के योग्य बनाएगी। गोयनका द्वारा पंजाब में अपने टै्रक्टर यूनिटों के प्रसार के लिए की गई अपील पर मुख्यमंत्री ने सहमति देते इस संबंध में प्रस्ताव सौंपने के लिए कहा।