स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अंडरब्रिज में पानी, चार किलोमीटर का चक्कर

Brajesh Kumar Tiwari

Publish: Aug 18, 2019 20:40 PM | Updated: Aug 18, 2019 20:40 PM

Guna

दो दिन से भले ही भारी बारिश से राहत मिल गई हो, लेकिन बांसखेड़ी के लोगों की परेशानी कम नहीं हो सकीं। दो दिन बाद भी बांसखेड़ी के अंडरब्रिज में पानी भरा हुआ है।

गुना. इस वजह से मुहालपुर, बांसखेड़ी, रशीद कालोनी और सांई सिटी कॉलोनी का रास्ता बंद है। लोगों को 200 मीटर की दूरी तय करने भी चार किमी का चक्कर लगाकर आना पड़ रहा है। एक साल पूर्व इसी अंडरब्रिज को लेकर ट्रेन रोकी थी, इसमें 20 लोगों को आरोपी बनाया था। उधर, रविवार को दिनभर आसमान में बादल छाए रहे और लेकिन तेज बारिश नहीं हुई। शाम तक रिमझिम बारिश का दौर चला। रविवार सुबह 8 बजे तक जिले में औसत बारिश 3.2 मिलीमीटर दर्ज की गई।

गुना तहसील में 8.6 मिमी, बमोरी में 3 मिमी, आरोन में 4 मिमी, राघौगढ़ में 3 मिमी, चांचौड़ा में 0 मिमी और कुंभराज तहसील में 1 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जिले में एक जून से अब तक 944.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। जो सामान्य वर्षा का 89.6 प्रतिशत है। जिले में गतवर्ष इसी अवधि में 611.5 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई थी। जिले की औसत वर्षा 1053.5 मिलीमीटर है। उधर, बारिश से पुरानी छावनी में मदन झा का भी घर क्षतिग्रसत हो गया।

 

 

बारिश से गिरे जिले में 700 मकान


बारिश से गुना तहसील में 239 कच्चे और 11 पक्के मकान गिर गए। बमोरी तहसील में 251 मकान गिरे, इनमें से 15 पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हुए। आरोन में 100 मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त और 3 पूरी तरह से नष्ट हो गए। चांचौड़ा तहसील में 110 मकान गिर गए हैं।

 


कहां कितनी बारिश


तहसील बारिश
गुना 1027.2
बमौरी 1029
आरोन 906
राघौगढ़ 959
चांचौड़ा 808
कुंभराज 936.5


नोट: बारिश मिलीमीटर में है।

रास्ते में भर रहा है बारिश

गुना. शहर की सफाई व्यवस्था बुरी तरह से ठप पड़ी है। नगर पालिका के वार्ड 35 में जहां न्यायधीश, पुलिस अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारियों के आवास है, वहां भी साफ सफाई का अभाव है। कालोनी में नियमित रूप से साफ-सफाई नहीं होने से कई जगह कचरे के ढेर लग गए और बीमारी को न्योता दे रहे हैं। इसके बाद भी नपा का अमला यहां पर ध्यान नहीं दे रहा है। स्थिति यह है कि एक हफ्ता पहले कचरा जहां पड़ा था, उसे अब तक नहीं हटवाया गया है। यह स्थिति कलेक्ट्रेट परिसर से लेकर महिला बसति गृह और यहां से लेकर कैंट रोड तक की है। जहां सफाई व्यवस्था के बुरे हाल हैं। दूसरे ओर कैंट रोड है। कैंट रोड पर लगे कलेक्ट्रेट के गेट से लेकर आयकर भवन तक साफ सफाई का काफी अभाव है। हास्टलों के बाहर और सरकारी आवास के गेट पर भी कचरे के ढेर हैं। आयकर भवन के पास खाली पड़ी जगह में वाहन रखे जा रहे हैं। नपा ने तो यहां पर सफाई करा रही है और ना ही वाहनों को हटवा रही है। इस वजह से काफी परेशानी हो रही है।