स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दुकानों में भरा पानी, स्कूलों की हुई छुट्टी

Brajesh Kumar Tiwari

Publish: Sep 13, 2019 20:54 PM | Updated: Sep 13, 2019 20:54 PM

Guna

तीन दिन से सावन की तरह पानी की झड़ी लगी है। इससे नदी, नाले उफान पर रहे। शुक्रवार को भी धरनावदा, मधुसूदनगढ़, झागर और फतेहगढ़ का सड़क संपर्क टूट गया। फतेहगढ़ स्टेट हाईवे दो दिन से बंद है। पुल पर पानी होने पर भी चालक वाहन निकाल रहे हैं

गुना. बांधों में क्षमता से अधिक पानी भरने और लगातार बारिश से आसपास के गांवों में भी खतरा बना हुआ है। उधर, शिक्षा विभाग ने स्कूलों में दो दिन की छुट्टी कर दी है। झमाझम बारिश से जहां सड़क संपर्क कटा रहा, वहीं कच्चे मकानों के लिए बारिश आफत बन गई है। बमोरी, विजयपुर, धरनावदा, म्याना और आरोन समेत कई जगह मकान गिरने की घटनाएं सामने आई हैं।


स्कूलों की छुट्टी


बीते दो दिन से लगातार भारी बारिश होने के कारण कई क्षेत्रों के नदी, नाले उफान पर हैं। छात्र-छात्राओं की सुरक्षा की दृष्टि से स्कूल शिक्षा विभाग के बाद कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार द्वारा जिले में संचालित कक्षा एक से 12वीं तक के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी है। डीईओ आरएल उपाध्याय केअनुसार, अवकाश शासकीय, अशासकीय के अलावा अनुदान प्राप्त एवं सीबीएसई से संबंधित स्कूलों में 13 और 14 सितंबर का अवकाश रहेगा। कलेक्टर ने इस साल पहली बार छुट्टी की है।

फसलों को भारी नुकसान


क्षेत्र के किसानों के चेहरे मुरझाए हुए हैं। बंपर पैदावार की उ मीद में बैठे किसानों के सामने ही फसल पानी से गल गई है। आरोन, चांचौड़ा, गुना तहसील सहित पूरे जिले में नुकसान हुआ है। गुना तहसील में 4 हजार हेक्टेयर की फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई है। जिले में करीब 20 हजार हेक्टेयर फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई है। पानी नहीं रुकने से सर्वे नहीं हो पाया है। प्रारंभिक सर्वे में करीब 20 से 25 हजार हेक्टेयर में नुकसान हुआ है।


दुकानों में भरा पानी, निकलना मुश्किल


बीनागंज. चांचौड़ा क्षेत्र में मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है। घरों में पानी घुस जाने से लोग परेशान हैं। रातभर बैठ कर समय गुजारने मजबूर हैं। पार्वती नदी के दोनों ओर स्थित ग्रामों एक दूसरे से संपर्क टूट गया है। लोग दोनों तरफ फंसे हुए हैं। पुरानीगंज में मोटा प्रजापति का मकान गिर गया। चांचौड़ा रोड की दुकानों में पानी भर गया। उधर, एक मकान रुठियाई में पुरुषोत्तम धाकड़ का भी गिर गया है। इसी तरह कई जगह नुकसान हुआ है।