स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गुना क्राइम समाचार/ दिल दहला देने वाली घटना : मां ने अपने 35 दिन के बच्चे को पटक-पटक कर मार डाला , देखें वीडियो

Amit Mishra

Publish: Sep 20, 2019 17:05 PM | Updated: Sep 20, 2019 18:12 PM

Guna

गुना क्राइम समाचार / एक माह 5 दिन का था शिशु
-रुठियाई कस्बे के नारोली मोहल्ले का मामला

 

गुना/धरनावदा. जिला मुख्यालय से 15 किमी दूर रुठियाई कस्बे में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। शुक्रवार को सुबह पति-पत्नी में खाना बनाने को लेकर झगड़ा हुआ। तैश में आकर मां ने अपने करीब 35 दिन के बच्चे को पटककर मार दिया। पेशे से दोनों मजदूर हैं और आपसी कहासुनी दो दिन से कलह बनी हुई थी। घटना के बाद जैसे ही मामला धरनावदा थाना की चौकी रुठियाई में पहुंचा तो घटना आग की तरह फैल गई। जिसे भी जानकारी लगी, वह दंग रह गया।

नवजात कि दिल की धड़कन थम चुकी थी
दरअसल, रुठियाई क्षेत्र में ये अमानवीय घटना सामने आई है। इस घटना में एक मां ने अपने ही दूध मुहे बच्चे को जमीन पर उठाकर पटक दिया। जिससे नवजात की मौत हो गई। सुबह जब उसके पिता ने देखा तो नवजात कि दिल की धड़कन थम चुकी थी।

MUST READ : रविवार को भी खुलती है State Bank of India की ये शाखा, छुट्टी के दिन यहां करा लें बैंक के काम


झगड़ा हो गया था
रुठियाई के नारोली मोहल्ला निवासी गजराज कुशवाह का अपनी पत्नी विमला बाई से झगड़ा हो गया था। दोनों के बीच झगड़ा इतना बढ़ गया कि तैश में आकर महिला ने बिस्तर से अपने बच्चे को उठाकर नीचे पटक दिया। सुबह देखा तो बालक की सांसे थम चुकी थी। इधर इस मामले में शिकायत के बाद पुलिस ने मां के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।

जूतों की माला पहनाकर रोड पर जुलूस निकाला
उधर गुना थाना क्षेत्र के बलराम पुरा गांव में एक युवक को निर्वस्त्र कर जूतों की माला पहनाकर रोड पर जुलूस निकाल दिया। फरियादी के छोटे भाई देवेंद्र भील पुत्र बापूलाल भील ने जानकारी दी कि मेरे भाई कमल भील को 1 उनारसी जाते समय बलरामपुर के कुछ युवकों ने पकड़ लिया। और मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में उसको बेरहमी से मारपीट की।

MUST READ : रिश्वत के लिए नहीं थे पैसे, बदले में किसान ने नायब तहसीलदार की गाड़ी से बांध दी भैंस

मारपीट करने के बाद उन लोगों ने उसके कपड़े निकाल दिए और हाथ बांधकर निर्वस्त्र करके उसको जूतों की माला पहनाकर गांव की सड़कों पर घुमाया। इस बात की जानकारी हमें लगी तो उन लोगों ने हमें भी धमकाया और पुलिस में रिपोर्ट करने के लिए नहीं जाने दिया।

 



घटना 18 सितम्बर को दिन के 2:30 बजे की
है। यह लोग हमें रिपोर्ट करने के लिए भी नहीं निकलने दे रहे थे। इसके बाद डायल 100 पर फोन लगाया और गाड़ी आई तब संतोष बाई , लक्ष्मण, कमल भील और बापूलाल डायल 100 की मदद से रिपोर्ट करने जामनेर थाने पहुंचे।

mp

पीडि़त पक्ष के लोगों ने बताया, हमारे पास मोबाइल में 5-6 वीडियो है, जिसमें मेरे भाई को यह बेरहमी से मार रहे हैं। और निर्वस्त्र करके गांव में जूतों की माला पहनाकर घुमा रहे हैं।