स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस वाले ने अपने साथी पुलिसकर्मी के खाते से उड़ाए लाखों रुपए, एसपी ने दी ये सजा

Amit Mishra

Publish: Sep 15, 2019 16:18 PM | Updated: Sep 15, 2019 16:24 PM

Guna

वान के खाते से उठाए 1.17 लाख रुपए

, आरोपी आरक्षक को एसपी ने किया सस्पेंड

गुना। पुलिस लाइन में पदस्थ प्रधान आरक्षक के खाते से करीब सवा लाख रुपए की राशि उसके साथी आरक्षक ने धोखाधड़ी कर निकाल ली है। शिकायत पर कैंट पुलिस ने आरक्षक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने उसे सस्पेंड कर दिया है। दीवान और आरक्षक दोनों 4 सितंबर को राजस्थान के जोधपुर में लगे एक मेला में ड्यूटी करने गए थे। इसी दौरान उनका मोबाइल लेकर आरक्षक ने फ्रॉड कर राशि ट्रांसफर कर ली और ड्यूटी के बाद फरार हो गया, जो अब तक गुना लाइन में नहीं पहुंचा है।

 

ये है पूरा मामला
दअरसल, प्रधान आरक्षक शशि कपूर आरक्षक देवेंद्र धाकड़ सहित अन्य आरक्षकों के साथ 4 सितंबर को जोधपुर में रामदेवड़ा मेला में ड्यूटी करने गए थे। आरक्षक ने चालाकी से दीवान का मोबाइल लिया और फरियादी की पत्नी से वाट्सएप पर पासवर्ड लेकर उनके खाते से एक लाख 17 हजार रुपए ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर करा लिए। यह धोखाधड़ी 8-9 सितंबर के बीच की गई। खाते से जैसे ही राशि निकली, तो मोबाइल पर मैसेज आया। उनकी पत्नी ने खाते से रुपए निकाल लेने की जानकारी दी तो दीवान के होश उड़ गए। इससे मामला पकड़ में आया।

 

आरक्षक पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज
प्रधान आरक्षक की शिकायत पर आरोपी आरक्षक देवेंद्र धाकड़ के खिलाफ कैंट पुलिस ने ने आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। हालांकि आरक्षक ड्यूटी करने के बाद से गुना नहीं लौटा है। वह भाग गया, जिसकी तलाश की जा रही है। एसपी लोढ़ा के पास जैसे ही मामला पहुंचा तो उन्होंने प्रकरण दर्ज करा दिया है। आरक्षक पकड़ में नहीं आया है।


आरोपी की चल रही दो विभागीय जांच
फ्राड करने के बाद आरोपी आरक्षक धाकड़ के खिलाफ कई मामले सामने आए हैं। इनमें दो विभागीय जांच भी चल रही हैं। एक जांच लगातार अनुपस्थित रहने की है और दूसरी ब्याज से रुपए के लेनदेन के मामले में चल रही है। इस पर उसके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है। यह आरक्षक शिवपुरी में आरक्षकों के साथ हुए विवाद के बाद चर्चाओं में आया था।