स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ट्रेक्टर खींचने गए बैंक कर्मियों और पुलिस को पीटा

Deepesh Tiwari

Publish: Oct 19, 2019 12:47 PM | Updated: Oct 19, 2019 12:47 PM

Guna

बंदूक छीनने का भी किया प्रयास...

पुलिस को घेरा, वर्दी फाड़ी...

गुना. ट्रैक्टर की किस्त न मिलने पर ट्रैक्टर खींचने के लिए गए बैंक कर्मियों के साथ गए पुलिस कर्मियों की भी आरोपी और उनके समर्थकों ने घेरकर मारपीट कर दी, और एक-दो पुलिस कर्मियों की वर्दी भी फाड़ दी और उनके वाहन फोड़ दिए।

आरोपियों के समर्थकों ने एक पुलिस कर्मी की बंदूक छीनने का प्रयास भी किया। आरोपी अपने पिता के साथ बैंक कर्मी ओर पुलिस कर्मियों द्वारा मारपीट करने व ट्रैक्टर जबरन खींचकर लाने से खफा थे।

पिटे हुए पुलिस और बैंक कर्मियों ने जामनेर पुलिस थाने पहुंचकर आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज कराया। यह घटना जामनेर पुलिस थानान्तर्गत राजाहेड़ी गांव की है।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एक निजी बैंक से कुछ समय पूर्व राजाहेड़ी गांव के एक मीना परिवार ने ट्रैक्टर फायनेंस कराया था, इसकी किस्त न देने पर बैंक के मैनेजर सुशील रघुवंशी अपने साथ बैंक के अन्य स्टाफ व गुना से एक-चार का एसएएफ पुलिस का गार्ड लेकर शुक्रवार को राजाहेड़ी गांव पहुंचे थे।

वहां यह लोग हरगोविंद मीना के घर पहुंचे, वहां फायनेंस ट्रैक्टर को खींचकर ले जाने का बैंक और पुलिस स्टाफ ने ले जाने का प्रयास किया, ऐसा करने से हरगोविन्द मीना के पिता कन्हैया लाल और उनके घर की महिलाओं ने रोका, तो पुलिस कर्मियों ने कन्हैयालाल की मारपीट कर दी और महिलाओं के साथ अभद्रता कर दी।

इसके बाद भी ट्रैक्टर को खींचकर रवाना कर दिया। बताया गया कि इसकी खबर जैसे ही हरगोविन्द मीना और उनके भाई अवध नारायण मीना और उनके समर्थकों को लगी, वे एकत्रित हो गए।

पुलिस को घेरा, वर्दी फाड़ी: पहले पुलिस और बैंक स्टाफ को रास्ते में घेर लिया और अपने पिता के साथ मारपीट करने का कारण पूछा और ट्रेक्टर वापस करने की बात कही।

दोनों ओर से विवाद बढ़ा, मीना के समर्थक उत्तेजित हो गए। उन्होंने बैंक व पुलिस कर्मियों के साथ अभद्रता कर दी। एक पुलिस कर्मी ने रायफल तान दी, ऐसा देख कुछ लोगों ने रायफल छीनने का प्रयास किया, पर वे सफल नहीं हो पाए।

आरोप है कि मीना, उनके समर्थकों ने हमारी मारपीट कर दी, एक-दो पुलिस कर्मियों की वर्दी फाड़ दी। ट्रैक्टर भी वापस छीन लिया।

पथराव भी किया
जिस वाहन से बैंक व पुलिस स्टाफ गया था, उस पर पथराव कर दिया, जिससे वे वाहन क्षतिग्रस्त हो गए और बैंक और पुलिस स्टॉफ अपनी जान बचाकर वहां से भागा। जामनेर थाने पहुंचकर राहत की सांस ली।

बैंक सुशील रघुवंशी की शिकायत पर पुलिस थाने ने हरगोविन्द मीना, अवध नारायण मीना, गजेन्द्र एवं छह अन्य के खिलाफ मारपीट करने का मामला दर्ज कराया।

पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध भादंसं की धारा 294, 323, 336, 427 आदि के तहत अपराध कायम किया।