स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लक्ष्मण सिंह बोले कमलनाथ मजबूर नहीं मजबूत मुख्यमंत्री बनो

Deepesh Tiwari

Publish: Nov 13, 2019 00:40 AM | Updated: Nov 12, 2019 20:01 PM

Guna

- कमलनाथ सरकार को दी नसीहत, कलेक्टर से भी नहीं मिले विधायक सिंह

गुना@प्रवीण मिश्रा की रिपोर्ट...

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और चांचौड़ा विधायक लक्ष्मण सिंह की अपनी ही पार्टी की सरकार के खिलाफ नाराजगी कम होने की बजाय बढ़ती जा रही है। मंगलवार को एक बार फिर प्रदेश के मुखिया कमलनाथ पर हमला बोलते हुए कहा कि वे मजबूर नहीं मजबूत मुख्यमंत्री बनकर दिखाइए।

सरकार चलाने पर ध्यान दें सरकार बचाने पर नहीं। पूरे प्रदेश में स्वास्थ्य, शिक्षा, कानून आदि की व्यवस्था बेहाल है। अधिकारी अपनी मर्जी कर रहे हैं। गुना की प्रभारी मंत्री से बात करने पर ऐसे लगता है कि जैसे दीवार से बात कर रहे हों।

विधायक का छलका दर्द...
संवाददाताओं से चर्चा करते हुए लक्ष्मण सिंह का दर्द छलक आया उन्होंने कहा कि मेरे लिखे पत्रों को जिला प्रशासन दबा लेता है। मेरे ही विधानसभा क्षेत्र में पुलिस द्वारा चुन-चुनकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रताडि़त किया जा रहा है। जिला ही नहीं राज्य सरकार भी मेरी उपेक्षा कर रही है। मुझे योजना मंडल की बैठक की सूचना तक नहीं दी जाती।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

क्या है मामला...
चांचौड़ा अस्पताल के ड्रेसर ने अपने निजी क्लीनिक पर एक महिला का इलाज किया था। महिला के परिजनों ने आरोप लगाया कि ड्रेसर के गलत इलाज से महिला चल बसी। परिजनों ने थाने के सामने शव रखकर ड्रेसर पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

विधायक मृतक महिला के घर सांत्वना देने पहुंचे थे। वहां से अस्पताल पहुंचकर उन्होंने अपने रजिस्टर में शिकायत दर्ज की। अस्पताल में पहुंचने के समय उनके साथ गुना कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार भी मौजूद थे।

लक्ष्मण सिंह ने कहा कि उन्होंने 4 डॉक्टरों के ट्रांसफर के लिए आदेश करवाया था, जिला प्रशासन ने सहयोग नहीं किया। यह मेरा नहीं चांचौड़ा विधानसभा की जनता का अपमान है।

अंडा नहीं मक्की महेरी खिलाओ...
आंगनबाड़ी और मध्यान्ह भोजन में बच्चों को अंडा नहीं बल्कि मक्का की महेरी और दूध दिया जाना चाहिए। इससे किसानों की आय भी बढ़ेगी और बच्चों को पोष्टिक भोजन भी मिलेगा।

[MORE_ADVERTISE3]

यह मांग करते हुए लक्ष्मण सिंह ने बताया कि भोजन निजी विषय है लेकिन जब जनता अंडे को पसंद नहीं कर रही तो सरकार को भी गंभीरता से सोचना चाहिए।

कलेक्टर से भी नहीं की चर्चा...
बताया गया कि गुना कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार मंगलवार को चांचौड़ा पहुंच गए थे, वे विधायक सिंह के अस्पताल पहुंचने की खबर मिलने पर वहां पहुंचे, विधायक ने रजिस्टर पर अपनी शिकायत दर्ज की, उन्होंने उपस्थित लोगों से उस रजिस्टर पर हस्ताक्षर कराए, इसके बाद अपने वाहन में बैठकर चले गए। उन्होंने कलेक्टर से चर्चा तक नहीं की, जो चांचौड़ा विधानसभा क्षेत्र में जनचर्चा का विषय बनी रही।