स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अमरीका-ईरान तनाव: यमन के हौती विद्रोहियों ने सऊदी के हवाई अड्डों व सैन्य ठिकानों पर किया हमला

Anil Kumar

Publish: May 22, 2019 02:41 AM | Updated: May 22, 2019 14:08 PM

Gulf

  • ईरान-अमरीका के बीच बढ़ते तनाव के बाद गल्फ देशों में बढ़ी टकराव की स्थिति।
  • यमन के हौती विद्होयों ने सऊदी अरब पर एक के बाद एक ड्रोन हमले करने शुरू कर दिए हैं।
  • हौती विद्रोहियों के हमले के लिए सऊदी ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया है।

सना। अमरीका ( America ) और ईरान ( Iran ) के बीच बढ़ते तनाव का असर गल्फ देशों में साफ-साफ दिखाई देने लगा है। ईरान समर्थित यमन के हौती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के हवाई अड्डों और सैन्य अड्डों को निशाना बनाते हुए बम वाले ड्रोन से हमला किया है। हालांकि इस हमले में अभी तक किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। हौती समूह की ओर से संचालित अलमसिरा सैटेलाइट चैनल ने बताया है कि मंगलवार की सुबह Qasef-2K ड्रोन के साथ नाज़रान में हवाई अड्डे और आर्म्स डिपो पर एयर स्ट्राइक की गई। नाजरान रियाद के 840 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में स्थित है, जो कि सऊदी-यमन बॉर्डर पर स्थित है। हौती विद्रोहियों की ओर से लगातार नाजरान को निशाना बनाया जाता रहा है। सऊदी अरब ( Saudi Arabia ) की एक प्रेस एजेंसी ने सऊदी की अगुवाई वाली गठबंधन के प्रवक्ता कॉलेनेल तुर्की अल-मलिकी ने हौथिस के रूप में कहा कि नाजरान में नागरिक स्थल को लक्षित किए बिना ही हमला करने की कोशिश की गई थी।

सऊदी ने 30 मई को अरब लीग की बुलाई आपात बैठक, कहा- ईरान ने उकसाया तो युद्ध के लिए हम तैयार

नाजरान में हैं अमरीकी सेना?

हौती विद्रोहियों की ओर से नाजरान को लगातार निशाना बनाने के पीछे यह उद्देश्य हो सकता है कि यमन-सऊदी की सीमा पर अमरीकी सेनाओं की तैनाती है। बीते साल न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था 'अमरीकी खुफिया विश्लेषक नजारान में थे, जो सउदी और सीमा पर अमरीकी सेना के ग्रीन बेरेट्स की तैनाती में सहायता करते थे। यमन और सऊदी अरब के बीच कई वर्षों से संघर्ष चल रहा है। हजारों लोगों को 2015 में यमन संघर्ष में जान गवांनी पड़ी थी। बीते सप्ताह हौती ने एक बार फिर से ईरान और अमरीकी तनाव के बीच सऊदी के तेल प्रतिष्ठानों पर ड्रोन हमला कर तनाव को बढ़ा दिया है। बीते दिनों ही सऊदी ने चेतावनी देते हुए कहा था कि यदि ईरान युद्ध चाहता है तो सऊदी हर हमले के लिए तैयार है।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.