स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जब डीएम साहब को आया गुस्सा और करने लगे पिटाई...

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Nov 22, 2019 11:38 AM | Updated: Nov 22, 2019 11:38 AM

Gorakhpur


वीआईपी कल्चर का मोह अधिकारी व नेताओं से नहीं छूट रहा

देवरिया एक बार फिर चर्चा में हैं। सरकार वीआईपी कल्चर भले ही खत्म करने का दावा कर रही है लेकिन साहबानों का मोह इससे भंग नहीं हो पा रहा है। देवरिया के जिलाधिकारी पर एक व्यक्ति की पिटाई का आरोप है। वजह बताया जा रहा है कि निरीक्षण के दौरान ‘साहब’ की गाड़ी जहां खड़ी होनी थी वहां किसी दूसरे ने गाड़ी खड़ी कर रखी थी और उसने हटाने के लिए कहने पर कुछ कह दिया। वीडियो वायरल होने के बाद यह वाक्या काफी चर्चा में है लेकिन अधिकारी ऐसी किसी घटना की जानकारी से इनकार कर रहे।

Read this also: योगी का विपक्ष पर हमला, पिछली सरकारें चीनी मिलों को बेचती एवं बंद कराती थीं, हम नई मिलें और रोजगार दे रहें

गुरुवार को सोशल मीडिया प्लेटफाम्र्स पर एक वीडियो अचानक से देवरिया में वायरल हो गया। यह वीडियो देवरिया के डीएम अमित किशोर की थी। वीडियो में डीएम किसी को थप्पड़ मार रहे हैं और उसके बाद उनके कर्मचारी भी पिटाई कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि यह वीडियो बुधवार का है। घटना के बारे में बताया जा रहा है कि डीएम अमित किशोर औद्योगिक आस्थान परिसर में स्थित डाकघर का निरीक्षण करने पहुंचे थे। डीएम की गाड़ी जहां पार्क होने थी उसी के पास पीड़ित संदीप भी गाड़ी पार्क कर दिया। पीड़ित के अनुसार डीएम को यह नागवार लगी। उन्होंने पहले गाड़ी हटाने को कहा। फिर अंदर लेकर गए।

Read this also: डीडीयू की इस पहल से देशभर के अध्येता व शोधार्थी होंगे लाभान्वित, प्रो.हर्ष सिन्हा बनाए गए समन्वयक

वहां पहुंचते ही वह भड़क गए। व्यापारी के अनुसार उसे डीएम ने भूमाफिया कहते हुए पीटना शुरू कर दिया। डीएम को मारते देख उनके सुरक्षाकर्मी भी उसे मारने लगे। इसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। यहां पुलिस ने उससे माफीनामा लिखवा कर छोड़ दिया।
उधर, पुलिस या प्रशासनिक अधिकारी इस प्रकार की किसी भी घटना से इनकार कर रहे हैं। हालांकि, पुलिस यह बात स्वीकार कर रही है कि औद्योगिक आस्थान क्षेत्र में हंगामा करने वाले एक युवक पर कार्रवाई की गई है।

Read this also: बसपा प्रदेश अध्यक्ष ने सुनाया मायावती का संदेश, अब पार्टी में बंद होगी यह प्रथा

[MORE_ADVERTISE1]