स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पूर्वांचल के विकास में जुड़ा कई नया अध्याय, बाॅटलिंग प्लांट का उद्घाटन, बायोफ्यूल प्लांट का शिलान्यास

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Sep 18, 2019 18:45 PM | Updated: Sep 18, 2019 18:45 PM

Gorakhpur

  • वाराणसी-गोरखपुर प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का भी हुआ शुभारंभ
  • केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान सहित कई मंत्री-विधायक रहे मौजूद

पूर्वांचल के विकास में बुधवार को कई नए अध्याय जुड़ गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में कई बड़ी परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया। एक समारोह में गीडा में लगे इंडियान आॅयल के बाॅटलिंग प्लांट, देवरिया के बैतालपुर में लगे बीपीसीएल के बाॅटलिंग प्लांट, बाराणसी से गोरखपुर तक प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का उद्घाटन और गोरखपुर के धुरियापार में बायोफ्यूल प्लांट का शिलान्यास किया गया। इसके अलावा ग्यारह अन्य परियोजनाआें का भी शुभारंभ सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया।

Read this also: पूर्वांचल के विकास में जुड़ेगा सुनहरा अध्याय, आज सीएम योगी के साथ केंद्रीय मंत्री देंगे सौगात

उद्घाटन व शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि गोरखपुर के विकास के लिए उनसे जो बन पड़ेगा वह करेंगे। 26 साल से बंद पड़े खाद कारखाने का 2021 तक प्रारंभ होने का वादा करते हुए कहा कि 2021 से पूर्वांचल का किसान गोरखपुर खाद कारखाने से यूरिया ले सकेगा। उन्होंने कहा कि यह एक सुखद संयोग है कि पांच साल पहले उन्होंने गीडा में बाॅटलिंग प्लांट की नींव रखी थी और आज उसको शुरू करने के लिए भी मौजूद हूं। उन्होंने खराब मौसम पर चुटकी लेते हुए कहा कि मुझे मेरे नेता योगी आदित्यनाथ ने जब बुलाया तब मैं गोरखपुर आ जाता हूं लेकिन मौसम की मेरी नहीं बनती। जब भी आता हूं तो इंद्रदेव अपनी कृपा बरसाने लगते हैं। गोरखपुर से मेरा रिश्ता है और यहां जब भी मौका मिलेगा आउंगा, चाहे जितना भी खराब मौसम क्यों न हो।
धर्मेंद्र प्रधान ने बायोफ्यूल प्लांट के बारे में बताते हुए कहा कि मोदी और योगी जैसा नेता कोई नहीं बन सकता। ये लोग जो कहते हैं वह करते हैं। किसानों की आय दुगुनी करने के लिए दोनों नेता शिद्दत से लगे हैं। उन्होंने कहा कि धुरियापार में लगने वाले बायोफ्यूल प्लांट को किसान अपने पुआल को बेच सकेगा। गाय-भैंस के गोबर को बेचा जा सकेगा। गोरखपुर और आसपास के जिलों के कचरे-कूड़े को खरीद कर उर्जा के क्षेत्र में अब गोरखपुर योगदान देगा।
उन्होंने कहा कि अब जो सुविधा दिल्ली या बड़े शहरों में मिलती थी वह सुविधा गोरखपुर के लोग भी पा सकेंगे। जल्द ही घर घर पाइपलाइन से लोगों को रसोई गैस की सुविधा मिल सकेगी।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गोरखपुर के विकास में यह नया अध्याय है। इस सौगात के लिए हम पूरे दक्षिणांचल की ओर से केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का हृदय से आभार व्यक्त करते हैं। समारोह के दौरान मुख्यमंत्री ने गोरखपुर और पूर्वांचल के विकास का खाका समझाया, चल रही परियोजनाओं के बारे में विस्तार से बताया।
इस दौरान पूर्व केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल सहित गोरखपुर के सांसद-विधायकगण व अधिकारी आदि मौजूद रहे।

Read this also: वाह रे यूपी, बस चला रहे ड्राइवर का हेलमेट के लिए कर दिया चालान