स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रणाम किया, आशीर्वाद लिया फिर कार में लिफ्ट देकर लूट लिया, इस हालत में सड़क किनारे मिले...

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Oct 18, 2019 10:30 AM | Updated: Oct 18, 2019 01:54 AM

Gorakhpur

Loot in Natwarlal way

प्रणाम किया, आशीर्वाद लिया। हालचाल पूछने के बाद लिफ्ट देकर घर छोड़ने के बहाने गाड़ी में बिठाया और फिर मारपीट कर बैंक से निकाले गए नकदी छीन फरार हो गए। यह घटना गोरखपुर के गगहा क्षेत्र की है। रिटायर ग्राम विकास अधिकारी को बदमाशों ने आत्मिक संबंध जोड़कर लूट लिया है।

Read this also: यूपी के इस जिले में एचडीएफसी बैंक को असलहाधारी बदमाशों ने लूटा, पुलिस ताकती रह गई

घटना गुरुवार दोपहर की है। गगहा क्षेत्र के गिरधरपुर के रहने वाले रिटायर ग्राम विकास अधिकारी शेषनाथ नायक 70 भलुआन स्टेट बैंक से रुपये निकालने गए थे। दोपहर करीब डेढ़ बजे वह एसबीआई से 24 हजार रुपये निकालकर बाहर निकले और कौड़ीराम जाने के लिए किसी वाहन की प्रतिक्षा करने लगे। काफी देर से खड़े बुजुर्ग के पास बड़हलगंज की ओर से आ रही एक कार रूकी। कार में सवार तीन लोगों ने बुजुर्ग को पहचानते हुए ‘चाचा’ कहते हुए नमस्कार किया। हालचाल पूछने के साथ ही कौड़ीराम तक चलने के लिए कार में ही बैठने की बात कही। बुजुर्ग को कार सवार लोग भले लगे। वह उनकी बातों में आ गए और कार में बैठ गए।

Read this also: यूपी के इस जिले में घुसे आतंकवादी, आतंकियों के निशाने पर ये शहर, लश्कर के आतंकियों के घुसने की सूचना के बाद हाईअलर्ट

कार जैसे ही भलुआन से आगे बढ़ी तीनों ने रंग दिखाते हुए बुजुर्ग से बैंक से निकाले 24 हजार रुपये व मोबाइल छीन लिया। नायक कुछ समझते इसके पहले उनको धमकी देकर चुपचाप बैठने को कहते हुए उनको सीट के नीचे दबा दिया। बदसलूकी करते हुए चवरिया तक पहुंचे। वहां सूनसान इलाका देख उनको उतार दिया। मोबाइल में से सिम निकालकर तोड़ दिया और मोबाइल वापस कर दी। कुछ देर बात सामान्य होने पर बुजुर्ग चिल्लाने लगे तो आसपास के लोग जुटे। आपबीती बताई तो किसी ने पुलिस को फोन किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने बुजुर्ग की बात सुनी, तहरीर देकर केस दर्ज कर बदमाशों को पकड़ने का आश्वासन दिया।

Read this also: यूपी के असलहाधारियों के लिए बड़ी खबर, पुलिस स्टेशन या शस्त्र की दूकानों पर नहीं जमा हो सकेंगे हथियार!