स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जब ड्राइवर को हटाकर एसएसपी ने खुद ड्राइव की डाॅयल 100 की गाड़ी, जानिए फिर क्या हुआ

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Jul 19, 2019 19:40 PM | Updated: Jul 19, 2019 19:40 PM

Gorakhpur

  • अचानक पहुंच गए गोरखपुर एसएसपी और चलाई डाॅयल 100 (SSP drives dial 100 vehicle) की गाड़ी
  • अब हर महीना डाॅयल 100 के बेस्ट ड्राइवर (dial 100 best driver Prize) को पुरस्कृत किया जाएगा
  • मुख्यमंत्री के जिले में एसएसपी की अनोखी पहल

त्वरित कार्रवाई/मदद के लिए यूपी में चलाए जा रहे डाॅयल 100 की व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए एसएसपी डाॅ.सुनील गुप्ता (SSP Sunil Gupta)ने औचक निरीक्षण किया। एसएसपी ने डाॅयल 100 गाड़ी (SSP Gorakhpur drives Dial 100 vehicle) के ड्राइवर को सीट से हटाकर खुद ही गाड़ी चलाकर उसे जांचा-परखा। पुलिस कप्तान ने इस सेवा में कार्यरत पुलिसकर्मियों से विधिवत जानकारी ली। डाॅयल 100 सेवा में होने वाली दिक्कतें-परेशानियां आदि भी पूछी।

यह भी पढ़ें- बीजेपी सदस्यता अभियानः तीन स्तर पर चलेगा अभियान, ऐसे साधेंगे लक्ष्य को

 

SSP Sunil Gupta

अब हर महीना बेस्ट ड्राइवर को किया जाएगा पुरस्कृत

डाॅयल 100 की व्यवस्था को और दुरुस्त करने के लिए एसएसपी गोरखपुर (SSP gorakhpur will reward best driver of dial 100 evry month) ने बेस्ट ड्राइवर/ड्राइवर आॅफ मंथ पुरस्कार से पुरस्कृत करने का निर्णय लिया है। उन्होंने विभाग के आरआई व अन्य अधिकारियों को इस बाबत आवश्यक कार्य करने का आदेश दिया है। एसएसपी डाॅ.सुनील गुप्ता ने कहा कि प्रति माह डाॅयल 100 सेवा में काम करने वाले बेहतरीन ड्राइवर को पुरस्कृत किया जाए। (SSP Gorakhpur new initiative for dial 100 service). उन्होंने हर माह डाॅयल 100 सेवा (dail 100 service in gorakhpur) की समीक्षा का निर्णय लिया है। इसके लिए सभी गाड़ियों पर तैनात तीनों शिफ्टों के चालकों को भी आने का निर्देश दिया।

 

यह भी पढ़ें- बाहुबली अतीक अहमद की बढ़ रही दुश्वारी, सीबीआई ने देवरिया में फिर डाला डेरा

गोरखपुर में है 49 ‘डाॅयल 100’ गाड़ियां

जिले में डाॅयल 100 सेवा में 49 गाड़ियां शासन से मिली हुई हैं। इनमें से 45 गाड़ियों को क्षेत्र में तैनात किया गया है जबकि चार गाड़ियों को पुलिस लाइन में इमरजेंसी सेवा के लिए रखा गया है।

यह भी पढ़ें- सिपाही हत्याकांड में सीएस योगी आदित्यनाथ को बड़ी राहत, कोर्ट ने दिया यह आदेश