स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घर छोड़ने के बहाने युवती को सुनसान इलाके लेकर गए, शराब पिलाकर गैंगरेप

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Nov 17, 2019 10:58 AM | Updated: Nov 17, 2019 10:58 AM

Gorakhpur

  • शर्मनाकः गैंगरेप के बाद पीड़िता के साथ दोनों आरोपी पकड़े गए लेकिन पुलिसवालों ने मैनेज कर छोड़ दिया
  • मुख्यमंत्री के शहर में पुलिस का यह रुप

मुख्यमंत्री के शहर में काम करने वाली एक युवती को सहकर्मियों ने अगवा कर गैंगरेप किया। धोखे से शराब पिलाई। हद तो यह कि गैंगरेप के बाद युवती को उसके घर छोड़ने जा रहे आरोपियों को पीड़िता सहित पुलिसवालों ने पकड़ भी लिया लेकिन ‘मैनेज’ होने के बाद उनको जाने दिया।

Read this also: सीएम योगी आदित्यनाथ का ऐलान, अगले साल यहां होगी नौकरियों व रोजगार की भरमार

गोरखनाथ क्षेत्र में पंद्रह वर्षीय किशोरी अपने माता-पिता के साथ रहती है। महराजगंज जिले के श्यामदेउरवा क्षेत्र की रहने वाली किशोरी शहर के ही एक रेस्टोरेंट में काम करती है। बुधवार की देर रात में उसके साथ काम करने वाले दो सहकर्मियों ने घर तक ड्राप करने की बात कहकर उसे स्कूटी से लिफ्ट दिया। लेकिन घर छोड़ने की बजाय उसे शाहपुर के कौवाबाग काॅलोनी में लेकर गए।
उसे एक जगह पर ले जाकर दोनों युवकों ने शराब पिलाई, फिर रेप किया। रेप के बाद पीड़िता को वे लोग घर छोड़ने ले जा रहे थे कि आधीरात को युवती संग दोनों युवाओं को पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद युवकों ने रेस्टोरेंट मालिक को काॅल किया। रेस्टोरेंट मालिक ने मामले को ‘मैनेज’ किया तो पुलिस ने उनको बाइज्जत जाने दिया। आरोपियों ने इसके बाद किशोरी को घर पहुंचा दिया। पीड़िता घर पहुंची तो मामले की जानकारी दी। पीड़ित पक्ष थाने पहुंचा तो पुलिस थाना-थाना खेलने लगी। पीड़िता का केस दर्ज करने की बजाय गोरखनाथ पुलिस ने शाहपुर थाने का मामला बताकर उसे टरका दिया। शाहपुर थाने पर जब पीड़ित पहुंचे तो बाल दिवस के कार्यक्रम में पुलिस व्यस्त होने की बात कह अगले दिन तक टरकाया। कई दिनों तक थाना-थाना घूमने के बाद पीड़ित पक्ष एसएसपी के पास पहुंचा। एसएसपी ने हस्तक्षेप किया तो केस दर्ज हुआ। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और किशोरी को मेडिकल के लिए भेजा गया।

Read this also: रात के ढाई बजे आ धमके प्रधान, जबरिया कराया निकाह, बोले कालिख पोत गधे पर घुमाया जाएगा

[MORE_ADVERTISE1]