स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video जब अचानक घोड़ा पर सवार होकर पहुंची पुलिस, पुलिस लाइन ग्राउंड में किया लाठीचार्ज, जानिए क्या है मामला

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Nov 06, 2019 17:30 PM | Updated: Nov 06, 2019 17:49 PM

Gorakhpur


अयोध्या राममंदिर प्रकरण

अयोध्या राममंदिर प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने पर सामाजिक सौहार्द कायम रहे इसके लिए प्रशासन और पुलिस लगातार रणनीतिक तैयारियों में व्यस्त है। बुधवार को जिला पुलिस ने दंगा नियंत्रण के लिए माॅक ड्रिल किया। माॅक ड्रिल में पुलिस अफसर भी शामिल रहे। रिहर्सल में हर उस तैयारियों का परीक्षण किया गया जो दंगा होने की स्थिति में उसके नियंत्रण के लिए आवश्यक होता है।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

पुलिस लाइन के परेड ग्राउंड में हुए इस माॅक ड्रिल में घंटों पुलिसवालों ने अभ्यास कर खुद को अभ्यस्त किया। पुलिस वालों ने अभ्यास किया कि किस तरह वे दंगाइयों से निपटेंगे।

[MORE_ADVERTISE3]mock drill

अभ्यास किया कि कैसे दंगा से निपटने के लिए बल प्रयोग करते हुए लाठीचार्ज किया जाता है। घोड़ा पुलिस कैसे दंगाइयों का दमन कर सकती है।

माॅक डि्रल किया कि अगर कहीं आगजनी हो गई। किसी सार्वजनिक या प्राइवेट संपत्ति को क्षति पहुंचाने के लिए आग लगाई गई या आयुध का प्रयोग किया गया तो उस स्थिति पर कैसी प्रतिक्रिया हो, कैसे उसे नियंत्रित किया जा सके।

दंगों में घायलों या मौत के मुंह में समाए लोगों की मदद विपरीत परिस्थितियों में किया जाए या उनको अस्पताल पहुंचाई जाए।

दंगाईयों पर काबू पाने के लिए कब और कैसे रबर की गोलियों से फायर किया जाए या पानी की बौछार छोड़ी जाए।