स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

टूटी सड़क पर जलजमाव से राह चलना दूभर, गुस्साएं लोगों ने रोपाई कर जताया विरोध

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Sep 20, 2019 07:07 AM | Updated: Sep 20, 2019 02:34 AM

Gorakhpur

मुख्यमंत्री के जिले की सड़क का हाल, लोगों ने लगाया सुनवाई नहीं होने का आरोप

मुख्यमंत्री का जिला गोरखपुर विकास के नित नए इतिहास रच रहा लेकिन इसकी खस्ताहाल सड़कें विकास को मुंह चिढ़ाने के लिए काफी है। हल्की बारिश में टूटी सड़कों पर लबालब भरा पानी व कीचड़ से लोगों का चलना दुश्वार हो जा रहा है। अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की उदासीनता से आजिज आकर बुधवार को लोगों ने प्रतीकात्मक विरोध दर्ज कराते हुए सड़क पर धान की रोपाई की।
राष्ट्रीय राजमार्ग 28 से सरैया-चौरीचौरा जाने वाली सड़क का बुरा हाल है। यह सड़क पूर्ण रूप से गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। बारिश में इस सड़क पर पानी भर जाने से आवागमन पूरी तरह से बाधित होने की स्थिति में पहुंच जाता। लोगों के लिए यह मार्ग अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि इसी सड़क पर कई शिक्षण संस्थान स्थित है। इसी सड़क के पास प्रत्येक गुरुवार व रविवार को बाजार भी लगता है।
लोग बताते हैं कि वे लोग अपने जनप्रतिनिधियों-अधिकारियों से इस सड़क की मरम्मती के लिए तमाम बार कह चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है। बुधवार को गुस्साएं लोगों ने सड़क पर धान की रोपाई कर प्रतीकात्मक विरोध दर्ज कराया।

Read this also: सीएम योगी से पूर्वी यूपी इंचार्ज ने किया सवाल, स्वामी चिन्मयानंद की जगह जेल है तो उनको संरक्षण क्यों

टूटी सड़क पर जलजमाव से राह चलना दूभर, गुस्साएं लोगों ने रोपाई कर जताया विरोध

सामाजिक कार्यकर्ता सत्य प्रकाश विद्यार्थी ने कहा कि ग्रामीण सड़कों खासकर राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़ी सड़कें सरकार की प्रथमिकता में हैं लेकिन नौकरशाही के कारण सरकार की योजनाएं धरातल पर नहीं पहुंच पा रही हैं। भारतमाला प्रोजेक्ट के माध्यम से सरकार अगले 2022 तक देश मे सड़कों का जाल बिछाने की बात कह रही जबकि हकीकत कुछ और ही है।
विरोध प्रदर्शन में विजय चौहान, ज्ञान प्रकाश पाण्डेय, सनी, अर्जुन, मनीष मोदनवाल, बुलट चौहान, श्याम सुंदर राय, विपिन कुमार पाण्डेय और स्थानीय लोग मौजूद रहे।

Read this also: वाह रे यूपी, बस चला रहे ड्राइवर का हेलमेट के लिए कर दिया चालान