स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पाकिस्तानी जासूस मशरुफ को गोरखपुर भेजा गया, इमरान भी साथ ही रहेगा

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Aug 19, 2019 08:45 AM | Updated: Aug 19, 2019 09:25 AM

Gorakhpur

  • शासन के निर्देश पर हुई कार्यवाही
  • पाकिस्तानी पर जासूसी, देशद्रोह, जालसाजी का आरोप

काशी के सेंट्रल जेल से पाकिस्तानी जासूस मोहम्मद मसरुफ उर्फ गुड्डू को गोरखपुर शिफ्ट कर दिया गया है। सजा काट रहे पाकिस्तानी जासूस समेत दो कैदी यहां स्थानांतरित कर भेजे गए हैं। दोनों को गोरखपुर मंडलीय कारागार में रखा गया है। इनको हाई सिक्योरिटी बैरक में रखा गया है।
पाकिस्तान के करांची का रहने वाला मोहम्मद मसरुफ उर्फ गुड्डू (42) को बहराइच पुलिस ने करीब 11 साल पहले गिरफ्तार किया गया था। साल 2008 में उसे गिरफ्तार करने के बाद जासूसी, देशद्रोह, जालसाजी और साजिश रचने के आरोप में जेल भेज दिया गया। मोहम्मद मसरुफ को न्यायालय ने वर्ष 2013 में आजीवन कारावास की सजा सुनाई। इसके बाद उसे फैजाबाद जेल में रखा गया। लेकिन साल 2015 में उसे वाराणसी सेंट्रल जेल में भेजा गया था।

Read this also: भासपा विधायक की मुश्किलें बढ़ी, विधायक व उनके पुत्र समेत 78 नामजद लोगों पर लूटपाट, आगजनी का केस

उधर, मसरुफ के अलावा गोरखपुर में बनारस का एक और कैदी भेजा गया है। मुरादाबाद का भूरा उर्फ इमरान (35) साल 2006 में हत्या, हत्या के प्रयास और डकैती के आरोप में पकड़ा गया था। न्यायालय ने इमरान को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। वह वाराणसी सेंट्रल जेल में सजा काट रहा था।
बताया जा रहा है कि दोनों पर वाराणसी जेल में रहते हुए अन्य कैदियों को उकसाने, विद्रोह करने के आरोप लगे।
शासन के निर्देश पर दोनों कैदियों को गोरखपुर मंडलीय कारागार में शिफ्ट करने का निर्णय लिया गया। शनिवार को रात में इनको गोरखपुर पहुंचाया गया।

Read this also: पवित्र रिश्ते को कर दिया शर्मसार, बेटी से दुष्कर्म कर काट डाला, सिर को गाड़ दिया आैर धड़ के साथ कुछ एेसा कि