स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Indian Railway पास हो गया अपना 'तेजस', निजी क्षेत्र से संचालित देश की पहली ट्रेन का किराया जानकर रह जाएंगे हैरान

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Sep 20, 2019 16:55 PM | Updated: Sep 20, 2019 16:55 PM

Gorakhpur

  • चार अक्तूबर से लखनउ से दिल्ली तक का सफर तय करेगा
  • लखनउ से गोरखपुर तक हुआ ट्राॅयल, अधिकारियों ने जांच-परख कर किया पास

निजी क्षेत्र में चलने वाली देश की पहली ट्रेन आज अपने ट्राॅयल में पास हो गई। आईआरसीटीसी द्वारा चलाई जाने वाली निजी क्षेत्र की ट्रेन तेजस (Tejas express) ने महज चार घंटों में यूपी की राजधानी से गोरखपुर तक (Tejas trial run between Lucknow to Gorakhpur) का सफर तय की। रेलवे के अधिकारियों ने इस ट्रेन का ट्राॅयल किया। औसत 110 किमी की रफ्तार से तेजस ने हवा में बातें कर सफर को सुहाना बनाया। शुक्रवार को दिन में करीब 11 बजे तेजस एशिया के सबसे लंबे प्लेटफार्म गोरखपुर रेलवे स्टेशन (Asia longest railway station Gorakhpur) पर पहुंचा।
तेजस(Tejas Express) का ट्राॅयल सुबह छह बजकर पैंतालिस मिनट पर प्रारंभ हुआ। रेलवे अधिकारियों व आईआरसीटीसी के जिम्मेदारों की एक टीम तेजस में लखनउ जंक्शन पर उस पर सवार हुई। फिर यह ट्रेन हवा से बातें करने लगी। 110 किमी की औसत रफ्तार से तेजस गोरखपुर के लिए चली। दिन के करीब 11 बजे गोरखपुर के प्लेटफार्म नंबर एक पर देश की पहली काॅरपोरेट ट्रेन पहुंची तो सबके चेहरे पर मुस्कान थी। आईआरसीटीसी से संचालित निजी क्षेत्र की पहली ट्रेन अब चार अक्टूबर से लखनऊ से दिल्ली के बीच फर्राटा भरने लगेगी।

Read this also: यूपी के थाने में सिपाही ने रेप पीड़िता की मां के फाड़े कपड़े, छेड़छाड़ का आरोप!

Indian Railway पास हो गया अपना 'तेजस', निजी क्षेत्र से संचालित देश की पहली ट्रेन का किराया जानकर रह जाएंगे हैरान

रेलवे के अधिकारियों के अनुसार इस ट्रेन में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस दस एसी चेयर कार लगाए गए हैं। इसमें नौ जनरल चेयरकार होंगे और एक एक्जिीक्यूटिव कार होगा। जनरल कार में 78 और एक्जीक्यूटिव में 56 यात्री सावर हो सकेंगे। सुरक्षा के मद्देनजर इस ट्रेन के साथ सिक्यूरिटी गार्ड भी चलेंगे।
फिलहाल तेजस (Tarrif of Tejas Express, the first private train run by IRCTC) का किराया तय नहीं है। रेलवे व आईआरसीटीसी अभी इस पर मंथन कर रहे। बताया जा रहा है कि तेजस का किराया सुपरफास्ट के किराया के आसपास ही रखा जाएगा।
तेजस के टिकटों की बुकिंग केवल आॅनलाइन होगी। दो-तीन दिन बाद टिकटों की बुकिंग भी प्रारंभ होने की संभावना है। आईआरसीटीसी इस ट्रेन में सारी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेगी। सिर्फ गार्ड व लोकोपायलट रेलवे द्वारा मुहैया कराया जाएगा।

Read this also: यूपी का यह चुनाव पहली बार बीजेपी जा रही लड़ने, उतारेगी प्रत्याशी, विधायकों संग बंसल ने की मंत्रणा