स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी के इस सीमावर्ती जिले में कश्मीरी युवक को एसएसबी ने लिया हिरासत में, पूछताछ के बाद...

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Oct 18, 2019 02:04 AM | Updated: Oct 18, 2019 02:04 AM

Gorakhpur

 

मित्र की शादी से लौट रहा था युवक, अफवाह के बाद बेवजह उसे उठानी पड़ी परेशानी

लश्कर-ए-तैयबा की आतंकी गतिविधियों को लेकर गुरुवार को पूरे गोरखपुर क्षेत्र में अफवाह का माहौल रहा। सोशल मीडिया से लेकर तमाम जगहों पर तरह तरह की अफवाह तैरती रही। इंडो-नेपाल सीमा पर भी हाईअलर्ट जारी कर दिया गया था। जगह-जगह सघन चेकिंग भी की गई। संदेह के आधार पर बार्डर पर एक कश्मीरी को पकड़ काफी देर तक पूछताछ की। एसएसबी ने हालांकि कुछ देर बाद उसे छोड़ दिया।

Read this also: यूपी के इस जिले में घुसे आतंकवादी, आतंकियों के निशाने पर ये शहर, लश्कर के आतंकियों के घुसने की सूचना के बाद हाईअलर्ट

दरअसल, काफी संख्या में विभिन्न क्षेत्रों के लोग नेपाल या आसपास के क्षेत्रों में व्यापार करने पहुंचते हैं। कश्मीर के भी तमाम व्यापारी यहां आते जाते हैं। बुधवार को आतंकी गतिविधियों की वजह से अलर्ट के बाद हुई जांच पड़ताल के दौरान कश्मीरी युवा व्यापारी को एसएसबी ने संदिग्ध समझ पूछताछ के लिए बैैठा लिया। हिरासत में लेकर एसएसबी ने पूछताछ किया तो पता चला कि वह व्यापार के सिलसिले में आए दिन नेपाल आता जाता है। खुफिया एजेंसियों ने युवक से पूछताछ की। पासपोर्ट आदि की जांच करने, वह आता है तो कहां रहता है, किससे किससे मिलता है, क्या करता है आदि सवालों पर जवाब जानने और उसकी तस्दीक करने के बाद उसे छोड़ दिया।

Read this also: यूपी के इस जिले में एचडीएफसी बैंक को असलहाधारी बदमाशों ने लूटा, पुलिस ताकती रह गई

एसएसबी के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक संदेह के आधार पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया युवक जम्मू कश्मीर का रहने वाला था। उसका नाम इरशाद अहमद था। वह नेपाल में कारोबार करता है। तमाम बार चीन उसका आना जाना हो चुका है। वह एक मित्र की शादी में शिरकत करने के बाद लौट रहा था तो उसे हिरासत में लिया गया था। यह एक सामान्य पूछताछ थी।

Read this also: यूपी के असलहाधारियों के लिए बड़ी खबर, पुलिस स्टेशन या शस्त्र की दूकानों पर नहीं जमा हो सकेंगे हथियार!