स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कभी मुख्य धारा से कट चुकी थी ये महिलाएं, अब रैंप पर करेंगी कैटवॉक

Sarweshwari Mishra

Publish: Nov 09, 2019 11:31 AM | Updated: Nov 09, 2019 11:31 AM

Gorakhpur

मिनी कल्चरल इंस्टीट्यूट इंटरटेनमेंट का पूर्वी फेस्टिवल का आयोजन

गोरखपुर. समाज की मुख्यधारा से जुड़ चुके वनटांगिये अब आधुनिकता की दौड़ में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए तैयार हैं। आपको यह जानकर आश्चर्य जरूर होगा लेकिन अब वनटांगियां महिलाएं रैंप पर कैटवॉक करने जा रही हैं। जिसके लिए उन्हें स्पेशल ट्रेनिंग दिया जा रहा है। नौ नवम्बर को इंटरनेशनल दिल्ली पब्लिक स्कूल, खोराबार में आयोजित होने वाले पूर्वी फेस्टिव के दौरान फैशन-शो में हिस्सा लेने के लिए वनटांगियां महिलाओं को जयपुर के ट्रेनर हिमांशु राय ने ट्रेंड किया है।

15 वनटांगियां महिलाओं को दी गई ट्रेनिंग

वनटांगियां महिलाओं को रैंप पर कैटवॉक कराने के लिए पहले वनटांगियों और उनके परिवार वालों की सहमति लेने के बाद उन्हें ट्रेंड किया गया। अब वह मंच पर उतरने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। रैंप पर उतरने के बाद महिलाओं का आत्मविश्वास बना रहे, इसके लिए उनके हेयर स्टाइलिस्ट, मेकअप आर्टिस्ट, डिजाइनर कपड़ों का इंतजाम भी किया है। कैटवाक के लिए 15 वनटांगियां महिलाओं को ट्रेनिंग दी गई है। आयोजन के दौरान नृत्य, गायन और फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता भी होगी, जिसमें बच्चे हिस्सा लेंगे। साथ ही विभिन्न क्षेत्रों की नामचीन विभूतियों और समाज के अंतिम व्यक्तियों के लिए कार्य करने वाले लोगों को सम्मानित भी किया जाएगा।

[MORE_ADVERTISE1]