स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीएम योगी आदित्यनाथ का ऐलान, अगले साल यहां होगी नौकरियों व रोजगार की भरमार

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Nov 16, 2019 21:19 PM | Updated: Nov 16, 2019 21:19 PM

Gorakhpur


मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में 127.18 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं 55.47 करोड़ रुपये की योजनाओं का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 122 वर्ष पुराना नगर निगम का ये भवन नगरीय व्यवस्था का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस नए भवन को वास्तु के हिसाब से बनाया जाए, जिसमें गोरखपुर की संस्कृति की झलक दिखाई दे। उन्होंने कहा की अगले वर्ष गोरखपुर में खाद कारखाने की भी शुरुआत हो जाएगी, जिससे बड़े पैमाने पर लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 20 वर्ष पहले गोरखपुर माफिया और मच्छरों के लिए जाना जाता था, लेकिन अब न यहां माफिया हैं और न ही मच्छर। गोरखपुर आज देश के चुनिंदा शहरों में गिना जाता है, क्योंकि यहां विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधा देने वाला एम्स जैसा संस्थान है।

Read this also: अचानक घर पहुंचा पति, पत्नी को किसी दूसरे युवक के साथ इस हाल में देख...

[MORE_ADVERTISE1]

गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को नगर निगम परिसर में 23.45 करोड़ की लागत से बनने वाले निगम सदन के कार्य का भूमि पूजन किया और बस चार्जिंग स्टेशन का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कुल 127.18 करोड़ की 180 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं 55.47 करोड़ रुपये की 53 योजनाओं का लोकार्पण किया। इसके अलावा उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के लाभार्थियों को नवनिर्मित भवनों की चाभी भी सौंपी।

Read this also: यूपी में 500 पहाड़ी तोतें बरामद, इस काम के लिए होती है तोतों की तस्करी

[MORE_ADVERTISE2]सीएम योगी आदित्यनाथ का ऐलान, अगले साल यहां होगी नौकरियों व रोजगार की भरमार[MORE_ADVERTISE3]

मुख्यमंत्री ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गोरखपुर नगर निगम ने नगरीय निकाय से लेकर नगर निगम बनने तक का सफर तय किया है, इसमें अनेक विभूतियों ने अपना योगदान दिया है। इन सभी को ध्यान में रखते हुए उनके योगदान का वर्णन एवं गोरखपुर के विकास की गाथा को इस म्यूजिम के माध्यम से प्रदर्शित किया जाए। योगी ने कहा कि ये लोकतंत्र का पवित्र मंदिर है, जो आमजन की आकांक्षाओं को पूर्ण करने वाला होगा।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस नए भवन में सभी जनप्रतिनिधियों एवं यहां से जुड़े अधिकारियों-कर्मचारियों के काम-काज के लिए पर्याप्त स्थान होगा। नगर निगम को आत्मनिर्भर बनना होगा और स्वयं को व्यवसायिक प्रतिष्ठान के रूप में विकसित करना होगा ताकि वह स्वयं के खर्चे उठाने के साथ आमजन को और बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करा सकें। सीएम योगी ने निर्देश दिए कि जमीनों से अवैध कब्जा हटवाकर उन्हें व्यावसायिक उपयोग में लाया जाए, साथ ही पार्किंग स्थल के रूप में भी विकसित किया जाए।

Read this also: सीएम योगी देंगे गोरखपुर को 171 करोड़ परियोजनाओं का सौगात

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जिन शहरों को स्मार्ट सिटी में शामिल नहीं किया गया है, उसे प्रदेश सरकार स्वयं अपने संसाधनों से स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित कर रही है। इन शहरों में गोरखपुर को भी शामिल किया गया है। योगी ने नगर निगम के अधिकारियों और जिला प्रशासन को निर्माणाधीन भवन की समयबद्धता और गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश को नई दृष्टि दी है, प्रत्येक नागरिक को विकास की इस प्रक्रिया के साथ जुड़ना होगा। उन्होंने स्वच्छता पर जोर देते हुए कहा कि स्वच्छता स्वस्थ्य शरीर का द्योतक है, इसलिए नगर निगम शहर में जल जमाव से निजात, डोर टू डोर कूड़ा एकत्र करने की व्यवस्था को विकसित करे।

Read this also: आपके घर में हैं डेंगू का लार्वा, यूपी के इस शहर में 9286 घरों में पुष्टि

सीएम योगी आदित्यनाथ का ऐलान, अगले साल यहां होगी नौकरियों व रोजगार की भरमार

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रामगढ़ ताल के माध्यम से प्राकृतिक संपदाओं का संरक्षण हो रहा है। रामगढ़ ताल के लाइट एंड साउंड शो के साथ अगले वर्ष चिड़िया घर की सौगात भी गोरखपुर को मिलेगी। गोरखपुर नए पर्यटक क्षेत्र के रूप में विकसित हो रहा है। कहा कि सर्दियों का समय आ रहा है इसके लिए लखनऊ में नई व्यवस्था बनाई गई है। किसी भी असहाय और बेसहारा को फुटपाथों पर सोने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने प्रशासन को निर्देश दिए कि ऐसे सभी लोगों को रैन बसेरों में पहुंचाया जाए और जरुरतमंदों के लिए कम्बल और स्वेटर की व्यवस्था की जाए। इसके लिए शासन द्वारा पर्याप्त धन दिया जा चुका है। योगी ने जनप्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि रात में सड़कों पर निकले और जरूरतमंदों को कम्बल और स्वेटर भेंट कर उनकी दुआएं लें।

इस दौरान काबीना मंत्री आशुतोष टंडन, विधायक डाॅ.आरएमडी अग्रवाल, विधायक फतेह बहादुर सिंह, एमएलसी देवेंद्र प्रताप सिंह, विधायक विपिन सिंह, मेयर सीताराम जायसवाल, उपेंद्र दत्त शुक्ल आदि मौजूद रहे।

Read this also: रात के ढाई बजे आ धमके प्रधान, जबरिया कराया निकाह, बोले कालिख पोत गधे पर घुमाया जाएगा