स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीएम योगी से पूर्वी यूपी इंचार्ज ने किया सवाल, स्वामी चिन्मयानंद की जगह जेल है तो उनको संरक्षण क्यों

Dheerendra Vikramadittya

Publish: Sep 19, 2019 19:01 PM | Updated: Sep 19, 2019 19:01 PM

Gorakhpur

  • पिछला ढाई साल बढ़ती बेरोजगारी, अपराध, महिला हिंसा और पुलिसिया उत्पीड़न के लिए इतिहास के पन्ने में दर्ज
  • योगी सरकार के ढाई साल पूरे होने पर कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता ने पूछे गंभीर सवाल

एक तरफ योगी आदित्यनाथ सरकार यूपी में ढाई साल का कार्यकाल पूरा करने पर उपलब्धियां गिना रही है तो दूसरी ओर कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने गंभीर मुद्दों पर भाजपा सरकार को घेरा है। उन्होंने भाजपा के ढाई साल को जंगलराज और युवाओं और महिलाओं के साथ धोखेबाजी का कार्यकाल करार दिया। कहा कि यह ढाई साल बढ़ती बेरोजगारी, अपराध, महिला हिंसा और पुलिसिया उत्पीड़न के लिए इतिहास के पन्ने में दर्ज हुआ है।

Read this also: पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह आरएसएस व भगवा के खिलाफ बयान देकर फंसे, यूपी के इस जिले में केस दर्ज

पूर्वी उत्तर प्रदेश के इंचार्ज अजय कुमार लल्लू ने पूछा कि प्रदेश सरकार का वादा था कि उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। लेकिन आजाद भारत के इतिहास में युवा पीढ़ी कभी इतनी परेशान और लाचार नहीं थी। 45 साल में इतनी बड़े पैमाने पर बेरोजगारी दर कभी भी नहीं रही है। लोकसेवा आयोग से लेकर तमाम भर्ती परीक्षाओं का बुरा हाल है। इस सरकार में शायद कोई भर्ती रही हो जिसमें पेपर लीक नहीं हुआ हो। सिर्फ इतना ही नही रोजगार मांगने पर बेरोजगार नौजवानों पर लाठी चार्ज किया जाता है, जेल भेजा जाता है। फर्जी मुकदमें में फंसाया जाता है। कहा कि यह बड़े शर्म की बात है कि भाजपा के एक केंद्रीय मंत्री युवा पीढ़ी को ही निकम्मा करार देते हुए अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि योगी सरकार में सरेआम बलात्कारियों के संरक्षण में पूरा शासन प्रशासन लगा हुआ है। कुलदीप सिंह सेंगर से चिन्मयानंद तक के मामले में प्रदेश की जनता ने इसका खेल देखा है। शाहजहांपुर मामले में चिन्मयानंद स्वामी की जगह तो जेल में होनी चाहिए लेकिन भाजपा लगातार उनको संरक्षण दे रही है। यही इस सरकार का असली चरित्र है।

Read this also: सीएम योगी बोले, बायोफ्यूल मतलब आम के आम और गुठलियों के भी दाम

उन्होंने ने कहा कि भाजपा का यह कार्यकाल सहारनपुर से लेकर बलिया तक दलित उत्पीड़न के लिए जाना जाएगा। सोनभद्र से हरदोई तक बढ़ते सामंती दम्भ के लिए जाना जाएगा। उन्होंने पूछा कि क्या इसी रामराज्य के लिए लोगों ने वोट किया था जहां दलितों, पिछड़ों और मुसलमानों पर दमनकारी पुलिसिया उत्पीड़न हो रहा है।
उन्होंने सवाल किया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यह बताना चाहिए कि जनता की गाढ़ी कमाई को इन्वेस्टर्स मीट के नाम पर उड़ाने के बाद भी उद्यम क्यों नहीं लगे, क्यों रोजगार नहंी बढ़े, क्यों निवेशक एक फूटी कौड़ी नहीं लगा रहे। क्यों बालू खनन माफिया, भूमाफिया की पूरे प्रदेश में चांदी कट रही है।

Read this also: वाह रे यूपी, बस चला रहे ड्राइवर का हेलमेट के लिए कर दिया चालान