स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीएम के शहर में पराली जलाने वाले 45 और डिप्टी सीएम के शहर में 12 किसानों पर दर्ज किया गया केस

Ashish Kumar Shukla

Publish: Nov 19, 2019 14:03 PM | Updated: Nov 19, 2019 14:03 PM

Gorakhpur

जिलों में जैसे पराली जलाने के मामले सामने आ रहे हैं वैसे ही कार्रवाई हो रही है

गोरखपुर. फसलों के अवशेष खेतों में जलाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद प्रशासन पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। पूर्वांचल की बात करें तो यहां लगातार जिलों में जैसे पराली जलाने के मामले सामने आ रहे हैं वैसे ही कार्रवाई हो रही है।

सोमवार को भी बलिया और मिर्जापुर जिले में 16 किसानों के खिलाफ पराली जलाने को लेकर रिपोर्ट दर्ज की गई। बलिया में जहां 13 तो वहीं मिर्जापुर के 3 किसानों पर प्रशासन ने डंडा चलाया है। वहीं गोरखपुर में सबसे अधिक 45 किसानों के खिलाफ मुकदमा कायम किया गया है। वहीं कौशांबी जिले में पराली जलाने पर 12 किसानों पर कार्रवाई की गई है, इनपर 15000 रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है।
मिर्जापुर जिले के गोरथरा गांव में तीन किसान सैटेलाइट के जरिये पराली जलाते पकड़ा गया। इन पर 7500 का अर्थदंड लगाया गया है।

बलिया में फसल अपशिष्ट यानी पराली जलाने पर सात किसानों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इस मामले में आरोपित किसानों पर 28 हजार रुपये जुर्माना लगाया गया है। मऊ में दो किसानों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है।

[MORE_ADVERTISE1]