स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पहले फेसबुक पर दोस्ती,फिर प्रेम परवान चढ़ा, अब समलैंगिक युवतियां पहुंची कोर्ट

Ashutosh Pathak

Publish: Sep 21, 2019 10:06 AM | Updated: Sep 21, 2019 10:07 AM

Ghaziabad

Highlights

  • फेसबुक पर दोस्ती के बाद दो लड़कियों में हुआ प्यार
  • शादी करने के लिए कोर्ट पहुंची दोनों युवतियां
  • एक के परिजन तैयार, दूसरे के परिजन ने कर दिया केस

गाजियाबाद। धारा 377 यानी समलैंगिकता को भले ही सुप्रीम कर्ट ने अपराध की श्रेणी से बाहर कर दिया हो, लेकिन इस तरह के मामले जब सामने आते हैं तो स्वीकार करना मुश्किल हो जाता है। कुछ ऐसा ही मामला गाजियाबाद से सामने आया है। जहां फेसबुक से शुरू हुई दोस्ती शादी तक जा पहुंची। लेकिन हर प्यार की कहानी में विलेन की तरह यहां भी विलेन की एंट्री हुई और लोग सुनकर हैरानी जताने लगे तो कोई विरोध करने लगा।

अंत में थक हारकर दोनों लड़कियां कोर्ट की शरण में पहुंची। जहां उन्होंने एक महिला अधिवक्ता से कोर्ट में शादी किए जाने की गुहार लगाई। हालांकि शुरुआती दौर में महिला अधिवक्ता भी आश्चर्य में पड़ गई। लेकिन जब उन्होंने अपनी पूरी प्रेम कहानी महिला अधिवक्ता को बताई तो महिला अधिवक्ता ने भी उनकी शादी कराए जाने के लिए कागजात तैयार कर लिए हैं।

दरअसल लोनी इलाके की रहने वाली एक युवती एलएलबी की पढ़ाई कर रही थी। करीब एक साल पहले उसने दिल्ली में बीटेक करने वाली एक युवती को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। जिसके बाद दोनों फेसबुक पर फ्रेंड बन गई। धीरे-धीरे दोनों की फेसबुक पर काफी बातें होने लगी और आपस में उनका प्रेम परवान चढ़ता गया। आपस में दोनों का मिलना जुलना भी होने लगा।

इस बीच एक दिन दिल्ली में रहने वाली लड़की अपना घर छोड़कर लोनी में अपनी दोस्त के घर आकर रहने लगी। इस बीच दोनों में प्यार बढ़ता गया और अब दोनों ने आपस में एक दूसरे को अपनाते हुए शादी करने का फैसला कर लिया।

दोनों ने जब यह बात अपने परिजनों को बताई यह बात सुन वह सन्न रह गए। दोनों ने काफी मन्नते की जिसके बाद लोनी में रहने वाली लड़की के परिजन इस बात पर सहमत हो गए। लेकिन दिल्ली में रहने वाली लड़की के परिजन लगातार इस बात से इंकार करते रहे। इतना ही नहीं दिल्ली की लड़की के परिजनों ने कोर्ट के माध्यम से लोनी इलाके में रहने वाली लड़की के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करा दिया। लेकिन करीब 8 महीने पहले दोनों ही लड़किया अचानक लापता हो गई और अब शुक्रवार को दोनों ही युवती गाजियाबाद कोर्ट परिसर पहुंची। जहां पर उन्होंने एक महिला अधिवक्ता की मदद से कोर्ट मैरिज करने की अपीलकी। हालांकि अभी पूरी प्रक्रिया तो नहीं हो पाई। लेकिन पूरे कागजात तैयार कर लिए गए हैं।