स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महिला ने दो बेटियों को दिया जन्म तो नाराज हो गए ससुरालवाले, इसके बाद जो हुआ, देखें वीडियो

Rahul Chauhan

Publish: Nov 12, 2019 17:08 PM | Updated: Nov 12, 2019 17:08 PM

Ghaziabad

Highlights:

-पीड़िता का कहना है कि शादी के 1 साल बाद ही उसने एक पुत्री को जन्म दिया

-जिसके बाद घर में खुशी होने के बजाय मातम सा छा गया

-उसके ससुराल पक्ष के तमाम लोगों को पुत्र होने की बेहद इच्छा थी

गाजियाबाद। भले ही सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देते हुए तमाम योजनाएं चला रही हो और इसके ऊपर ना जाने कितना ही खर्च किया जा रहा हो। उसके बावजूद भी समाज अभी भी इस बात को समझने को तैयार नहीं है। ऐसा ही मामला गाजियाबाद के मोदीनगर इलाके का सामने आया है। जिसमें एक विवाहिता को 2 साल में जब दूसरी बेटी हुई तो ससुरालवालों ने उसे बीमार हालत में ही घर से निकाल दिया।

यह भी पढ़ें : अश्लील फोटो दिखाकर तुड़वा दिया रिश्ता और खुद कर ली शादी, इसके बाद युवती के अंगों पर कर दिए ऐसे निशान

मिली जानकारी के अनुसार मोदीनगर इलाके की तिबड़ा रोड स्थित कृष्णा कुंज कॉलोनी निवासी गुंजन सोनी की शादी 2 साल पहले नहाली निवासी विवेक नाम के युवक के साथ हुई थी। पीड़िता का कहना है कि शादी के 1 साल बाद ही उसने एक पुत्री को जन्म दिया। जिसके बाद घर में खुशी होने के बजाय मातम सा छा गया। क्योंकि उसकी ससुराल पक्ष के लोगों को पुत्र होने की बेहद इच्छा थी।

पीड़िता का आरोप है कि बात-बात पर पूरे साल उसके ससुराल वाले ताना देते रहे। वहीं शादी के दूसरे वर्ष उसने दूसरी पुत्री को जन्म दिया। जिससे उसका पति विवेक बेहद नाराज हो गया और उसे घर से ही निकाल दिया। जिसके बाद वह अपनी दोनों छोटी बच्चियों को गोद में लेकर बीमार हालत में रविवार को अपने पिता के घर जा पहुंची और आपबीती सुनाई।

यह भी पढ़ें: सिद्ध पीठ शाकुम्भरी देवी के मेले को मिला राजकीय दर्जा, सीएम योगी ने किया था वादा

जिसके बाद अब पीड़िता ने अपने परिजनों के साथ थाना मोदीनगर में पहुंचकर अपने ससुराल पक्ष के खिलाफ तहरीर देते हुए कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग की है। पीड़िता का आरोप है कि शादी के बाद से ही उससे दहेज की मांग की जाती रही है। इतना ही नहीं पिता द्वारा यह भी कहा गया है कि उसके ससुराल पक्ष के लोगों के द्वारा दहेज में ₹5,00,000 की मांग भी की जाती रही। लेकिन जैसे तैसे वह झेलती रही और 2 साल के अंदर ही उसने दो पुत्रियों को जन्म दिया। जिसके बाद उसकी ससुराल पक्ष के लोग उसके और भी ज्यादा खिलाफ हो गए। क्योंकि उन्हें लड़के होने की बेहद चाह थी। इसीलिए उसे घर से निकाल दिया गया।

उधर, इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए थाना अध्यक्ष जितेंद्र यादव ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है। गुंजन सोनी एक महिला द्वारा अपनी ससुराल पक्ष पर उसे घर से निकाले जाने और दहेज के लिए प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने बताया कि पीड़िता ने अपनी ससुराल पक्ष पर मारपीट के दहेज उत्पीड़न के मामले में अपने पति विवेक, ससुर चंद्रकिरण ,दो जेठ व जेठानी और ननद व सास के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। पीड़िता द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी गई है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

[MORE_ADVERTISE1]