स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इंस्पेक्टर ने प्रोफेसर का सिर फोड़ा, पिस्टल पर हाथ रखते हुए कहा- मैं तेरा एनकाउंटर कर दूंगा

lokesh verma

Publish: Dec 14, 2019 16:59 PM | Updated: Dec 14, 2019 16:59 PM

Ghaziabad

Highlights
- साहिबाबाद थाना क्षेत्र स्थित राजेंद्र नगर की घटना
- इंस्पेक्टर ने प्रोफेसर के ऊपर लोहे के पाइप से हमला कर सिर फाेड़ा
- पीड़ित ने कस्टम इंस्पेक्टर के खिलाफ साहिबाबाद थाने में दर्ज कराया केस

गाजियाबाद. साहिबाबाद थाना क्षेत्र के राजेंद्र नगर में एक असिस्टेंट प्रोफेसर को एक इंस्पेक्टर से कार निकालने के लिए रास्ता मांगना भारी पड़ गया है। बताया जा रहा है कि असिस्टेंट प्रोफेसर ने गाड़ी निकालने के इंस्पेक्टर से रास्ता मांगा था। इतना कहते ही गुस्से आग-बबूला हुए इंस्पेक्टर ने प्रोफेसर के ऊपर लोहे के पाइप से हमला कर उसका सिर फाेड़ दिया और पिस्टल पर हाथ रखते हुए कहा कि मैं तेरा एनकाउंटर कर दूंगा, तू मुझे जानता नहीं है। यह सुनकर घायल असिस्टेंट प्रोफेसर काफी घबरा गया और सीधे थाने में पहुंच गया। जहां थाना प्रभारी ने पीड़ित की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है।

यह भी पढ़ें- ऑफिस से निकलकर साथी के साथ पी रही थी शराब, पति ने देखा तो सबके सामने जमकर धुना

जानकारी के मुताबिक, कस्टम इंस्पेक्टर राजेश कसाना अपनी गाड़ी में बैठा था, वहीं एक व्यक्ति उनकी गाड़ी के गेट को खोलकर साफ-सफाई कर रहा था। इसी बीच वहां से दिल्ली में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर तैनात निशांत प्रताप सिंह कार में ऑफिस के लिए निकले, लेकिन उनकी गाड़ी तब तक नहीं निकल सकती थी, जब तक इंस्पेक्टर साहब की गाड़ी का दरवाजा बंद नहीं होता। इस पर प्रोफेसर ने कहा कि मुझे ऑफिस के लिए देर हो रही है। आप अपनी कार का दरवाजा बंद कर लीजिए। यह सुनते ही गाड़ी में बैठा इंस्पेक्टर बाहर निकला और कहा कि तू इंस्पेक्टर की गाड़ी हटवाएगा, तू एक पुलिस वाले की गाड़ी हटवा देगा, तू मुझे जानता नहीं है।

इसके बाद इंस्पेक्टर ने अपनी जैकेट हटाते हुए वर्दी दिखाई और नेमप्लेट भी पढ़ाई। इस पर निशांत ने कहा कि आप पुलिसवाले हैं तो इसका मतलब रास्ते में गाड़ी खड़ी करते हुए किसी को परेशान करेंगे। इतना सुनते ही इंस्पेक्टर को गुस्सा आ गया और उसने निशांत के ऊपर लोहे के पाइप से हमला कर दिया। इंस्पेक्टर का घर भी वहीं था तो उनके जानने वाले भी आ गए और उन्होंने भी निशांत की खूब पीटा। इतना ही नहीं निशांत की गाड़ी में भी तोड़-फोड़ की गई।

घायल अवस्था में निशांत ने थाना साहिबाबाद पहुंचकर आरोपी इंस्पेक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। इस संबंध में एसपी सिटी मनीष कुमार मिश्रा ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है। पीड़ित की तहरीर के आधार पर केस दर्ज करते हुए आगे की कार्रवाई की जा रही है। अब देखना वाली बात ये है कि पुलिस इंस्पेक्टर के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है।

यह भी पढ़ें- गजबः स्कूटर सवार ने सीट बेल्ट नहीं लगाई तो पुलिस ने काट दिया चालान

[MORE_ADVERTISE1]