स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पांचवी बेटी हुई तो पति-पत्नी ने किया ऐसा काम कि घर में काम करने वाली बाई ने खोल दिया राज

Ashutosh Pathak

Publish: Sep 14, 2019 10:56 AM | Updated: Sep 14, 2019 10:57 AM

Ghaziabad

Highlights

  • मां-बाप ने बीस दिन की बेटी को बेचा
  • पांचवी बेटी होने पर 10 हजार में बेचा
  • दंपत्ति ने पुलिस में दर्ज कराई थी शिकायत

गाजियाबाद। जहां एक तरफ सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रही है। वहीं दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक मां बाप ने अपनी बेटी को दस हजार में बेच दिया। लेकिन एक दंपत्ति ने इसकी शिकायत पुलिस और चाइल्ड लाइन एवं बाल कल्याण विभाग में कर दी। एक्शन में आई पुलिस ने बच्ची को भी बरामद कर लिया और मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। लेकिन इसके खुलासा कैसे हुआ इसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे।

जानकारी के अनुसार गाजियाबाद के थाना विजयनगर इलाके की क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसायटी में रहने वाले एक दंपत्ति आकांक्षा पांडे और शोभित चतुर्वेदी ने थाना विजय नगर में एक शिकायत दर्ज कराई, साथ ही चाइल्ड लाइन और बाल कल्याण विभाग को भी इसकी सूचना दी। जिसमें आकांक्षा पांडे और शोभित चतुर्वेदी के घर एक बाई काम करने आती थी। उसी ने उन्हें सूचना दी कि एक पति अपनी पत्नी के साथ आए दिन इसलिए मारपीट करता था कि उसकी पत्नी ने पांचवी बिटिया को जन्म दिया। इस बात पर पति-पत्नी में आए दिन झगड़ा होता था और अब आखिरकार उसके पति ने उस बेटी को ₹10000 में बेच दिया है।

जैसे ही यह सूचना आकांक्षा पांडे और शोभित चतुर्वेदी को मिली तो उनके द्वारा इसकी तहरीर दी गई । सूचना के आधार पर बाल कल्याण अधिकारी विकास चंद्रा ने इस पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए थाना विजय नगर में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

उधर इस पूरे मामले में थाना अध्यक्ष श्यामवीर सिंह ने बताया कि क्रॉसिंग रिपब्लिक में रहने वाले दंपत्ति की ओर से सूचना दी गई। सूचना पर पुलिस द्वारा जांच की गई तो बच्ची वास्तव में ही अपने घर नहीं मिली और बच्ची की मां के बताए अनुसार पुलिस उस जगह पहुंची जहां पर बच्ची मौजूद थी। श्यामवीर सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है और इसकी गहनता से जांच की जा रही है। उधर जहां पर बच्ची बरामद हुई उनका कहना है कि उन्होंने बच्ची को गोद लिया है। खरीदा नहीं है उन्होंने बताया कि पूरे मामले की पुलिस अभी गहनता से जांच कर रही है जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।