स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पहले पत्नी को चाकू से गोदकर उतारा मौत के घाट, फिर खुद भी किया सुसाइड का प्रयास, गंभीर

lokesh verma

Publish: Nov 11, 2019 18:13 PM | Updated: Nov 11, 2019 18:13 PM

Ghaziabad

Highlights
- गाजियाबाद घंटाघर कोतवाली क्षेत्र के बालूपुरा की घटना
- पत्नी ने अस्पताल पहुंचते ही तोड़ा दम
- नाजुक स्थित में आरोपी पति दिल्ली रेफर

गाजियाबाद. घंटाघर कोतवाली क्षेत्र के बालूपुरा में पति ने अपनी पत्नी की चाकू गोदकर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी ने खुद को भी चाकू मारकर खुदकुशी करने का प्रयास किया है। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी युवक को घायल अवस्था में नजदीकी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने उसकी हालत को गंभीर बताते हुए दिल्ली रेफर कर दिया है।

यह भी पढ़ें- UP Police के इन दो बड़े अफसरों की करतूत से शर्मसार हुई खाकी

क्षेत्राधिकारी धर्मेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि बालूपुरा निवासी विकास और घुकना की रहने वाली पूजा की शादी 2015 में हुई थी। शादी के बाद दोनों में किसी बात को लेकर मनमुटाव हो गया और पूजा ने विकास के खिलाफ कोर्ट में तलाक का एक मुकदमा दायर किया था। दोनों का मामला कोर्ट में विचाराधीन था। इसी बीच बालूपुरा पहुंचकर विकास ने अपनी पत्नी पूजा को चाकू मारकर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद खुद को भी चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल कर लिया। इसकी सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची तो पूजा और विकास लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़े हुए थे। इसके बाद दोनों को तुरंत नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचते ही पूजा ने दम तोड़ दिया। जबकि विकास की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। उसकी हालत बिगड़ते हुए देख चिकित्सकों ने उसे दिल्ली रेफर कर दिया है।

उधर, पूजा के पिता ने बताया कि उन्होंने अपनी लाड़ली बेटी की शादी विकास से की थी। शादी के बाद से ही विकास दहेज में बाइक के लिए दबाव बनाने लगा। इस बात को लेकर दोनों में तकरार भी हुई। जब उन्हें इसकी जानकारी मिली तो सगे संबंधियों के साथ पंचायत करते हुए फैसला करा दिया, लेकिन कुछ दिन बाद फिर से पूजा के साथ मारपीट की जाने लगी। इसके बाद पूजा ने तलाक के लिए गाजियाबाद न्यायालय में मुकदमा डाल दिया था, जो अभी विचाराधीन ही था। हालांकि दोनों के वकीलों ने आपसी फैसले की बात हुई। फैसले के अनुसार पूजा और उसकी मां सोमवार को अपना सामान लेने बालूपुरा पहुंचे थे। इसी दौरान विकास ने पूजा पर ताबड़तोड़ चाकू से वार कर दिए, जिससे पूजा की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें- सुसाइड करने वाले सिपाही के परिजनों को पुलिसकर्मियों ने अपने वेतन से दी 5 लाख की आर्थिक मदद

[MORE_ADVERTISE1]