स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Ghaziabad: Metro की बिजली सप्‍लाई बंद करने वाले चोर पकड़े, अब नहीं रुकेगी ट्रेन- देखें वीडियो

sharad asthana

Publish: Dec 14, 2019 12:47 PM | Updated: Dec 14, 2019 12:48 PM

Ghaziabad

Highlights

  • Khora Police ने पांच चोरों को किया गिरफ्तार
  • चार बंडल 33 केवी के बिजली के तार बरामद
  • Metro लाइन के तार चोरी करते थे ये बदमाश

गाजियाबाद। जनपद की पुलिस (Police) ने पांच चोरों को गिरफ्तार कर मेट्रो के र्क बार खराब होने का बड़ा खुलासा किया है। थाना खोड़ा (Khora Thana) पुलिस ने गुरुवार की देर रात को इन चोरों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से पुलिस ने चार बंडल 33 केवी के बिजली के तार, एक कटर, छह ब्लेड, एक लोहे का हुक, दो टाटा महेंद्रा मैजिक, एक ब्रीजा कार, दो चोरी के फोन और 4 चाकू बरामद किए हैं।

यह भी पढ़ें: Baghpat: अवैध संबंध के चक्‍कर में दोस्‍त की मां की कर दी हत्‍या- देखें Vidoe

ये हैं आरोपियों के नाम

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए युवकों के नाम धर्मवीर निवासी दिल्ली (Delhi), शिवम शर्मा निवासी दिल्ली, फैजल निवासी बागपत (Baghpat), राशिद निवासी बागपत और प्यारो निवासी बागपत हैं। पांचों आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वे मेट्रो (Metro) लाइन की तार चोरी करते थे। जब मेट्रो रात में बंद हो जाती थी, तब ये वारदात को अंजाम देते थे।

मेट्रो बंद होने के बाद करते थे वारदात

एएसपी केशव कुमार का कहना है कि रात को 12-1 बजे जब मेट्रो नहीं चलती थी तब ये वारदात करते थे। सुनसान जगह पर पेड़ या पोल में कुंदा डालकर ये अंदर कूद जाते थे। मेट्रो लाइन में घुसकर ये लकड़ी के हुक के सहारे तार को काट देते थे। इससे मेट्रो लाइन की बिजली कट जाती थी। इसके बाद ये तार को कटर से काटकर अलग कर लेते थे। बाहर चोर तारों के बंडल को गाड़ी में लादकर ले जाते थे। इस गैंग पर नोएडा (Noida), गाजियाबाद (Ghaziabad) और दिल्ली में अलग-अलग थानों में कई मामले दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें: Baghpat: युव‍कों ने किया बिजली विभाग के जेई का अपहरण, पुलिस ने कुछ मिनटों में छुड़ाया- देखें Video

यात्रियों को होती है परेशानी

एएसपी ने कहा कि आरोपी के तार काटने से मेट्रो में सफर करने वाले लोगों को काफी परेशानी होती थी। इसमें मेट्रो अक्सर लेट हो जाया करती थी या रुक-रुक कर चलती थी। कई बार सिंगल लाइन हो जाती थी। इससे लोगों को अक्सर देरी का सामना करना पड़ता था। पुलिस को आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उम्मीद की है कि इस प्रकार की चोरियों में अंकुश लगेगा। मेट्रो अपने तय समय से चल पाएगी।

[MORE_ADVERTISE1]