स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गाजियाबाद से अलग होगी एशिया की सबसे बड़ी अवैध कॉलोनी !

Ashutosh Pathak

Publish: Sep 16, 2019 15:41 PM | Updated: Sep 16, 2019 15:42 PM

Ghaziabad

Highlights

गाजियाबाद से अलग होगा खोड़ा !

गाजियाबाद के डीएम ने शासन को लिखा पत्र

खोड़ा को नोएडा में शामिल करने की रखी मांग

गाजियाबाद। अगर सबकुछ ठीक रहा तो जल्द ही नोएडा और गाजियाबाद की भौगोलिक दशा बदल सकती है। गाजियाबाद के डीएम ने इसके लिए शासन को भी पत्र भेज दिया है। जिसमें गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने ख़ोड़ा को नोएडा में शामिल करने के लिए शासन को पत्र लिखा है। साथ ही 11 जून 1989 राज्यपाल की तरफ से जारी की गई अधिसूचना का हवाला देकर नोएडा विकास प्राधिकरण से खोड़ा क्षेत्र में विकास की गतिविधियां संचालित कराने का अनुरोध किया है।

अपने पत्र में जिलाधिकारी ने लिखा है कि खोड़ा-मकनपुर नगर पालिका क्षेत्र नोएडा से सटा है। इसके आस-पास सभी नोएडा के क्षेत्र आते हैं। लेकिन राजस्व के लिहाज से मकनपुर का इलाका दादरी तहसील में आता है। जिसकी वजह से सीमा को लेकर काफी मुश्किल होती है और समस्या को दूर करने में भी परेशानी आती है। इस वजह से आलम यह है कि विकास में भी खोड़ा इलाका काफी पिछड़ा हुआ है।

गौरतलब हो कि खोड़ा इलाका 12.59 किमी में फैला है जहां करीब 12 लाख की आबादी रहती है। खोड़ा इलाका ऐसी जगह है जो आता तो गाजियाबाद में है लेकिन नोएडा और दिल्ली से चंद दूरी पर है जबकि गाजियाबाद से काफी कटा हुआ है। हालाकि खोड़ा में बड़ी संख्या में बाहरी भी रहते हैं जो मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते हैं। यहां यूपीस बिहार, उत्तराखंड समेत तमाम बाहरी राज्यों से काम करने वाले बड़ी संख्या में लोग यहां आकर बस गए हैं।

घनी आबादी की वजह से अपराध को नियंत्रित करना प्रशासन के लिए चुनौती रहती है। वहीं जिलाधिकारी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व इंदिरापुरम से अलग कर खोड़ा का थाना भी बना दिया गया था। लेकिन अब भी जिस प्रकार की घनी आबादी है यहां कानून व्यवस्था लगातार चुनौती बनती रही है। साथ ही जीडीए के मुकाबले नोएडा प्राधिकरण साधन संपन्न माना जाता है। नोएडा में इसके शामिल होने से विकास की रफ्तार में तेजी आएगी। हालाकि अभी इसपर कोई जवाब नहीं आया है और फिलहाल खोड़ा में गाजियाबाद प्राधिकारण के तहत ही कार्य होगा।