स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Good News: इस बड़े शहर में जल्द घटेंगे फ्लैटों के दाम, खरीदारों के लिए बेहतर मौका

Nitin Sharma

Publish: Aug 15, 2019 11:15 AM | Updated: Aug 15, 2019 11:15 AM

Ghaziabad

मुख्य बातें

  • पांच साल पहले भी उठाया गया था ऐसा कदम, इन आवासीय योजनाओं के कम हुए थे दाम
  • शहर के इन क्षेत्रों में स्थित जीडीए फ्लैटों के दामों में हो सकती है कटौती

गाजियाबाद। अगर आप शहर में अपने लिए घर खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह आपके पास बेहतरीन मौका है। इसकी वजह (ghaziabad development authority) जीडीए अधिकारियों द्वारा अपने इन (Flats) फ्लैटों की कीमतों में कटौती करने का फैसला करना है। दरअसल (Delhi-NCR) दिल्ली एनसीआर में आने वाले यूपी के महानगर (Ghaziabad) गाजियाबाद में जीडीए मधुबन बापूधाम की तर्ज पर (Flat scheme) आवासीय योजनाओं के फ्लैटों के दाम कम कर सकता है। पांच साल पहले भी ऐसा हुआ था। इसी को आधार बनाते हुए एक बार फिर जीडीए अधिकारी सितंबर माह में होने वाली बोर्ड बैठक में फ्लैटों की कीमत कम करने का प्रस्ताव रखेंगे।

Video: सिगरेट न लाने पर पांच युवकों ने अपने खास दोस्त को दी ऐसी खौफनाक सजा, जानकर कांप जाएगी आपकी रूह

पांच साल पूर्व इन फ्लैटों के कम किये गये थे दाम

दरअसल पांच साल पूर्व भी रियल एस्टेट सेक्टर में सुस्ती का दौर आ गया था। लोगों प्रॉपट्र्री में निवेश करने से बच रहे थे। ऐसे में जीडीए ने अपने फ्लैट बेचने के तमाम प्रयास किये। इसके बावजूद लोग खरीदने में ज्यादा रुची नहीं दिखा रहे थे। इन हालातों को देखते हुए Gda officer's ने फ्लैट की कीमत कम करने का फैसला किया था। गाजियाबाद प्राधिकरण के वीसी ने फ्लैटों के दाम कम करने के के लिए कंटीजेंसी चार्ज और पर्यवेक्षण शुल्क घटाने का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए थे। इस पर अधीनस्थों ने काम करना शुरू किया। जिसके बाद 30 जनवरी 2014 में मधुबन-बापूधाम आवासीय योजना में दोनों शुल्क घटाने की गई। तब कंटीजेंसी चार्ज 15 प्रतिशत से घटाकर दो प्रतिशत किए गए थे। इससे फ्लैटों की दाम में काफी गिरावट आई थी। वहीं खरीदारों ने निवेश भी किया था।

Noida: 1 लीटर Petrol लेने पर थमा दी इतने सौ रुपये की पर्ची तो सील हुआ Pump

इन क्षेत्र में बने आवासीय फ्लैटों के कम हो सकते हैं दाम

अधिकारियों के अनुसार पर्यवेक्षण शुल्क 15 प्रतिशत से घटाकर 10 प्रतिशत किया गया था। साथ ही इसमें जीडीए वीसी को इस निर्णय की जानकारी दी गई है। इसी के बाद उन्होंने अभियंत्रण अनुभाग को निर्देश दिया कि इस निर्णय को आधार मानते हुए जिले के कोयल एंक्लेव, इंद्रप्रस्थ, इंदिरापुरम, वैशाली और चंद्रशिला योजना में बने फ्लैट की कीमत निर्धारित की जाए।