स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दिल्ली के बाद अब गाजियाबाद में 5 मंजिला इमात में लगी आग, मची भगदड़- देखें वीडियो

Nitin Sharma

Publish: Dec 10, 2019 19:31 PM | Updated: Dec 10, 2019 19:31 PM

Ghaziabad

Highlights

  • कुछ ही देर में तेजी से फैल गई आग
  • आग लगने पर मकान में मची भगदड़
  • दमकल विभाग ने आग पर पाया काबू

गाजियाबाद। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के थाना खोड़ा कॉलोनी इलाके में अचानक उस वक्त भगदड़ मच गई। जब वहां बनी 5 मंजिला इमारत में भीषण आग लग गई । जैसे ही आग लगनी शुरू हुई तो इसकी सूचना आनन-फानन में दमकल विभाग और स्थानीय पुलिस को दी गई। सूचना के आधार पर दमकल विभाग की 4 गाडिय़ों ने समय रहते ही आग पर काबू पाया। और इमारत में रहने वाले करीब 50 लोगों को सुरक्षित बचाया गया।

दिल्ली अग्निकांड के बाद महानगर में सड़क पर उतरे प्रशासनिक अधिकारी, अवैध फैक्ट्रियों को कराया बंद- देखें वीडियो

मिली जानकारी के अनुसार, थाना खोड़ा कॉलोनी इलाके में अर्चना एनक्लेव में एक पांच मंजिला इमारत बनी हुई है। जिसमें अलग-अलग मंजिल पर कई परिवार रहते हैं। इस 5 मंजिला मकान के प्रथम तल पर रामजी मिश्रा नाम का फ्लैट है। इस 5 मंजिला इमारत के किनारे से ही बिजली के तारों का घना जाल बिछा हुआ है। मंगलवार को अचानक ही बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट हुआ। तारों से निकली चिंगारी फ्लैट में आ लगी। देखते ही देखते फ्लैट में रखा माल धू-धू कर जलने लगा। गनीमत रही कि फ्लैट बंद था। जबकि परिवार बाहर गया हुआ था, लेकिन जैसे ही आसपास के लोगों ने आग लगते देखा तो पूरे इलाके में भगदड़ मच गई ।और आनन-फानन में स्थानीय पुलिस और दमकल विभाग को सूचित किया गया। सूचना के आधार पर स्थानीय पुलिस और दमकल विभाग की तीन गाड़ी मौके पर पहुंची। गनीमत रही कि समय रहते ही आग पर काबू पा लिया गया। वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

मकान में रहते हैं 50 से ज्यादा लोग

इस इमारत में छोटे-छोटे अन्य फ्लैट भी हैं। जिनमें करीब 50 से ज्यादा लोग रहते हैं। दमकल विभाग की टीम ने स्थानीय पुलिस द्वारा सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। आग पर पूरी तरह काबू पा लिया गया है, लेकिन जब तक सभी लोगों को सुरक्षित बाहर नहीं निकाला गया और आग को पूरी तरह नहीं बुझा लिया गया। सभी लोगों की सांसें अटकी रही। यानी स्थानीय पुलिस और दमकल विभाग की सजगता के कारण यह बड़ा हादसा टल गया।

[MORE_ADVERTISE3]