स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मां- बाप से बोला एकलौता इंजीनियर बेटा, मैं जा रहा हूं इनसे मिलने और सातवीं मंजिल से लगा दी छलांग

Nitin Sharma

Publish: Aug 21, 2019 13:06 PM | Updated: Aug 21, 2019 13:06 PM

Ghaziabad

मुख्य बातें

  • माता- पिता का इकलौता बेटा था इंजीनियर
  • नोएडा की एक बड़ी कंपनी में इंजीनियर था युवक, कुछ दिन से बदला गया था स्वभाव
  • हर समय करता था किसी बाबा की बात

गाजियाबाद। महानगर के क्रॉसिंग रिपब्लिक की महागुन मैस्कट सोसायटी में मंगलवार सुबह एक इंजीनियर बेटा ऑफिस जाने के लिए तैयार हो रहा था। उसने माता- पिता के साथ खाना खाया और अचानक ही बाबा से मिलने की बात कहते हुए सातवीं मंजिल की बालकनी से छलांग लगा दी। जब तक पिता बेटे के पीछे दौड़ते हुए पहुंचे। तब तक बेटे की मौत हो चुकी थी। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। पीएम रिपोर्ट में मौत का कारण शॉक (गहरा आघात) एंड हैमरेज बताया गया है।

परिवार ने घर के अंदर ऐसी जगह छिपाकर रखा था 'बीफ’, आप भी नहीं कर पाएंगे यकीन

एक बड़ी कंपनी में इंजीनियर था युवक, पिछले कुछ समय से करता अजीब बातें

पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान स्वप्निल सिंह (27) के रूप में हुई है। वह अपने पिता कृष्णनंदन सिंह व मां के साथ महागुन मैस्कट के एवलॉन टॉवर में सातवें मंजिल पर रहता था। वह अपने मां- बाप का इकलौता बेटा था। वह परिवार के साथ पांच माह पहले ही किराये के फ्लैट में रहने इस सोसायटी में आये थे। स्वप्निल नोएडा सेक्टर-63 स्थित एक कंपनी में इंजीनियर के पद पर कार्यरत था। मृतक बेटे के पिता ने पुलिस को बताया कि स्वप्निल बीते कुछ दिनों से शांत रहने लगा था। वह हर समय किसी बाबा के बारे में बात करता था। मंगलवार सुबह भी वह माता-पिता के साथ ब्रेकफास्ट कर रहा था। इस दौरान वह फिर से बाबा के बारे में बात करने लगा। इस पर पिता कृष्णनंदन सिंह ने रोका तो बेटे स्वप्निल गुस्सा हो गया। गुस्से में कुर्सी से उठा और बाबा से मिलने की बात कहते हुए, बालकनी से छलांग लगा दी

सपा विधायक की छोटी बहन की हत्या से मचा हड़कंप, चौंकाने वाला मामला आया सामने

बाबा की छानबीन में जुटी पुलिस, स्वप्निल के दोस्तों से भी पूछताछ

वहीं पुलिस अधिकारियों के अनुसार बाबा कौन है और कैसे स्वप्निल के संपर्क में आया। अभी तक यह पता नहीं लग पाया है। इसके लिए स्वप्निल के दोस्तों से पूछताछ की जा रही है। वहीं इकलौते बेटे के जाने से माता-पिता से विस्तृत बातचीत नहीं हो पाई है। इसके साथ ही स्वप्निल के दोस्तों व कंपनी में साथी कर्मचारियों से भी पूछताछ कर उसके व्यवहार में आए बदलाव से लेकर बाबा का पता लगाने के प्रयास में जुट गई है।