स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Sawan 2019: सावन में महादेव को प्रसन्न करना है तो, क्या करें क्या न करें इसका रखें विशेष ध्यान

Ashutosh Pathak

Publish: Jul 20, 2019 15:50 PM | Updated: Jul 20, 2019 15:50 PM

Ghaziabad

  • Sawan के महीने में भगवान शंकर की होती है पूजा
  • भगवान Shankar को प्रसन्न करने के लिए विशेष बातों का रखें ध्यान
  • सावन में पूजा से लेकर खाने-पीने तक में बरते सावधानी

गाजियाबादsawan 2019: सावन का पवित्र महीना भगवान शिव शकंर ( shiv shankar ) को समर्पित होता है। पूरे एक महीने तक शिव भक्तों ( Shiv Bhakt ) का मंदिरों में तांता लगा रहता है। सावन महीने में भगवान भोले भक्त की पूजा से जल्दी प्रसन्न होते हैं और मनोवांछित फल देते हैं। लेकिन सावन महीने में कुछ विशेष सावधानी भी बरतनी चाहिए। सिर्फ पूजा को लेकर ही नहीं बल्कि खाने-पीने से लेकर, रहन-सहन को लेकर विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए।

  • सावन में भगवान शंकर ( Lord Shiva ) की पूजा करने के लिए अक्सर लोग पूजा सामग्री में बेल पत्र भी रखते हैं। लेकिन ध्यान रखें बेल पत्र कभी भी सोमवार को नहीं तोड़े इसे एक दिन पहले ही तोड़ कर पानी में डाल कर रख दें।
  • सावन सोमवार में शंकर जी की पूजा करते समय कभी भी हल्दी का प्रयोग नहीं करें। क्योंकि सावन में शिव जी का दूध से अभिषेक किया जाता है। हालाकि इसके पीछे वैज्ञानिक तर्क है कि बारिश के मौसम में दूध पित्त बढ़ाने का काम करता है। इसलिए इसके सेवन से बचना चहिए।
  • सावन में पत्तेदार सब्जियां, पालक, चौलाई आदि को नहीं खाना चाहिए। साथ ही बैंगन भी नहीं खानी चाहिए।
  • शिवभक्तों को कभी भी सावन में बुरे विचार मन में नहीं लाने चाहिए और न ही किसी की बुराई करनी चाहिए। इस समय धर्म संबंधी किताबों का अध्ययन करना चाहिए।
  • सावन में हरी पत्तेदार सब्जियों का त्याग करना अच्छा माना जाता है क्योंकि सावन में हरी सब्जियों में पित्त बढ़ाने वाले तत्व की मात्रा बढ़ जाती है। इसके अलावा सावन के महीने में कीट-पतंगों की संख्या बढ़ जाती है जो सेहत के लिए हानिकारक होते हैं।
  • सावन पूरे एक महीने तक चलता है, इन दिनों में अंडा, मांस और शराब का सेवन करना वर्जित है सात्विक भोजन करना चाहिए । इसके अलावा लोगों को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।