स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video: Police ने एनकाउंटर में पकड़े दो बदमाश, लोगों ने कहा- उन्‍होंने पकड़ा दोनों को, एसएसपी ने दी यह सफाई

sharad asthana

Publish: Oct 23, 2019 12:01 PM | Updated: Oct 23, 2019 12:02 PM

Ghaziabad

Highlights

  • गाजियाबाद में सामने आया मामला
  • पुलिस मुठभेड़ पर लगे सवालिया निशान
  • दोनों पर घोषित था 25-25 हजार का इनाम

गाजियाबाद। उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जनपद की पुलिस पर एक मुठभेड़ के मामले में सवाल उठने लगे हैं। पुलिस ने 20 अक्टूबर की रात को यह एनकाउंटर किया था। इसमें दो बदमाश आकाश और सन्नी को गिरफ्तार करने का दावा किया गया था। वहीं, बताया जा रहा है क‍ि दोनों आरोपियों को स्‍थानीय लोगों ने चोरी करते समय पकड़ा था।

दूसरे बदमाश को बाद में किया गिरफ्तार

पुलिस ने 20 अक्टूबर की रात को मुठभेड़ में आकाश और सन्नी नाम के दो बदमाशों को गिरफ्तार करने का दावा किया गया था। पुलिस के मुताबिक, दोनों बदमाशों ने गोविंदपुरम (Govindpuram) में चोरी के बाद फार्मासिस्‍ट की हत्‍या की थी। रविवार रात को बदमाशों ने कनावनी पुलिया पर चेकिंग कर रही पुलिस टीम पर फायरिंग की थी। मुइभेड़ में एक बदमाश सन्‍नी निवासी इटावा गोली लगने से घायल हो गया था जबक‍ि उसका साथी आकाश निवासी मुजफ्फरनगर भाग गया था। उसको बाद में शक्तिखंड-4 से गिरफ्तार किया गया था। दोनों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित था।

यह भी पढ़ें: Video: Supreme Court ने Yogi सरकार को 6 हफ्ते में मंदिरों के इस मामले में कानून बनाने को कहा

वीडियो हुआ वायरल

इस मुठभेड़ के बाद एक वीडियो वायरल हुआ है। इसने पुलिस मुठभेड़ पर सवाल खड़े कर दिए हैं। साहिबााद के रहने वाले मोहित कुमार का कहना है क‍ि 17 अक्‍टूबर को उनके यहां से दो चोर पकड़े गए थे। उनकी वीडियो भी उनके पास है। 20 अक्‍टूबर को वे दोनों चोर मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार दिखाए गए हैं। उनकी गली में तीन चोरियां हुइ्र थी, जिसमें ये शामिल थे। दोनों को 17 अक्‍टूबर को पकड़ा गया था। उनको गली वालों ने पकड़ा था।

यह भी पढ़ें: Video: पुलिसकर्मियों के लिए बड़ी खुशखबरी, उनके आवास के लिए इतने हजार करोड़ रुपये हुए जारी

यह कहा एसएसपी ने

इस बारे में एसएसपी सुधीर कुमार सिंह का कहना है क‍ि मुठभेड़ में सन्‍नी को गोली गली थी। दूसरा बदमाश भाग गया था। बाद में आकाश को भी पकड़ा गया था। पूछताछ में उन्‍होंने गोविंदपुरम में चोरी के बाद मर्डर की बात कबूल की थी। सन्नी के पास से पासपोर्ट और चोरी के औजार मिले थे। आकाश ने 17 को भी घर में घुसने का प्रयास किया था। उसको लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। उसने पूछताछ में यह जुर्म कबूल किया था। उसने बताया था कि घटना में सन्‍नी भी शामिल था। पुलिस ने योजना बनाकर आकाश को छोड़ा। योजना के तहत सन्‍नी को पकड़ गया। इस दौरान पुलिस मुठभेड़ हुई, जिसमें सन्‍नी घायल हुआ था।