स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक ही परिवार के 9 सदस्यों की बदल गई जाति, दिल्ली से लखनऊ तक मचा हड़कंप!

Virendra Kumar Sharma

Publish: Aug 21, 2019 08:36 AM | Updated: Aug 21, 2019 08:37 AM

Ghaziabad

आपूर्ति विभाग के अधिकारियों में मचा हड़कंप

गाजियाबाद. जनपद में आपूर्ति विभाग (Supply department office) की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। विभाग की तरफ से बगैर जांच के ही महिला का राशन कार्ड जारी कर दिया। राशन कार्ड के मुताबिक, महिला के परिवार में 9 सदस्य दिखाए गए हैं। महिला के 8 सदस्यों को बेटी-बेटे बनाया गया है, जबकि एक युवक को देवर। हैरानी की बात यह है कि सभी सदस्यों की जाति अलग—अलग है।

विभागीय अफसरों में मचा हड़कंप

राशन कार्ड का मामला सामने आते ही अधिकारी अब अपनी कमी को दबाने में जुट गए हैं। दरअसल, गाजियाबाद के मोदीनगर कस्बे की दुकान नंबर 10090741 पर लक्ष्मी नाम की महिला का राशन कार्ड पिछले दिनों बनाया गया। कार्ड में महिला के बेटियों और बेटों के पिता का नाम भी अलग—अलग हैं। जिसके बाद आपूर्ति विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं लखनउ तक भी मामला जा पहुंचा है।

मिलीभगत कर राशन कार्ड जारी का आरोप

इस मामले में आपूर्ति विभाग और डीलर पर लोगों ने मिलीभगत करने का आरोप लगाया है। लोगों का आरोप है कि आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने राशन डीलर के साथ मिलकर महिला का फर्जी राशन कार्ड जारी किया हैं। डीलर राशन निकालकर गरीबों के हक पर डाका डाल रहा है। वहीं, तहसीलदार उमाकांत तिवारी का कहना है कि आपूर्ति विभाग के अधिकारी मामले की जांच में जुट गए हैं। आपूर्ति अधिकारी एसपी मौर्य ने बताया कि यह बड़ी गलती है। जांच की जा रही है।

राशन कार्ड में दिया गया विवरण

-लक्ष्मी पिता रूपचंद (कार्ड धारक)
-आरती शर्मा पिता पवन शर्मा (बेटी)
-शारदा पिता राजकुमार (बेटी)
-वीरेंद्र कुमार पिता राजय लाल गोयल (बेटा)
-आयुष त्यागी पिता प्रशांत कुमार त्यागी (बेटा)
-आजाद पिता मुस्तकीम (बेटा)
-आकाश तोमर पिता मंगल सैन तोमर (बेटा)
-राजकुमार पिता रामसिंह (देवर)