स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सावन 2019: छत्तीसगढ़ का एेसा अद्भूत मंदिर जहां लगातार बढ़ रहा है शिवलिंग का आकार

Akanksha Agrawal

Publish: Jul 30, 2019 09:10 AM | Updated: Jul 24, 2019 14:02 PM

Gariaband

- छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में मौजूद है भूतेश्वर महादेव का शिवलिंग
- भूतेश्वर महादेव के दर्शन करने दूर दूर से पहुंचते हैं भक्त
- सावन में हर साल यहां लगता है अद्भूत मेला

गरियाबंद. सावन के पूरे महीने में लोग धूमधाम से भगवान शिव को पूजते हैं। देशभर में 12 ज्योतिर्लिंग हैं, जिनके प्रति भगवान शिव के श्रद्धालुओं की गहरी आस्था है। छत्तीसगढ़ में एक ऐसा शिवलिंग हैं जिसकी मान्यता ज्योतिर्लिंग की ही तरह ही है। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में मौजूद भूतेश्वर महादेव एक अर्धनारीश्वर प्राकृतिक शिवलिंग है। जो राजधानी रायपुर से 90 किमी दूर गरियाबंद के घने जंगलों में बसा है।

अद्भुत है छत्तीसगढ़ का कंकाली तालाब जहां पर सदियों से तालाब में डूबे हैं भगवान शिव, पढ़ें पूरा इतिहास

Sawan 2019

दूर-दूर से आते हैं श्रद्धालु
सावन के महीने में हर साल यहां भव्य मेले का आयोजन किया जाता है। जहां दूर दूर से महादेव के भक्त उनकी अराधना करने पहुंचते हैं। इस जगह की मान्यता इतनी है कि यहां केवल छत्तीसगढ़ से ही नहीं बल्कि दूसरे राज्यों से भी भक्त पहुंचते हैं। इसके साथ ही सावन के दौरान प्रत्येक सावन सोमवार को कांवरिए भगवान को जल चढ़ाने सुबह से आने लगते हैं।

बाहर से आए भक्तों के लिए होती है पूरी व्यवस्था
ज्ञात हो कि इस मंदिर के दर्शन के लिए भक्त दूर दूर से पहुंचते हैं। इसलिए यहां पहुंचे भक्तों के लिए रहने व खाने पीने की पूरी व्यवस्था की जाती है।

नदी किनारे विराजे है सोमनाथ, श्रीराम और माता सीता कुछ समय तक किए थे पूजा

Sawan 2019

इसलिए पड़ा भूतेश्वर नाम
आसपास के गांव के लोगों का मानना है कि पहले भूतेश्वर महादेव एक छोटे टीले के रूप में थे। फिर धीरे-धीरे इनका आकार बढ़ता गया। और इनके आकार में बढ़ाव आज भी जारी है। शिवलिंग में प्रकृति प्रदत जललहरी भी दिखाई देती है जो धीरे धीरे जमींन के ऊपर आती दिखाई दे रही है। इसलिए इसे भूतेश्वर महादेव के नाम से जाना जाने लगा।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें