स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डिब्बे में पकड़कर ले जा रहे थे तेंदुए के जिंदा शावक, पुलिस को मिली जानकारी तो एेसे दबोचा

Akanksha Agrawal

Publish: Sep 12, 2019 09:17 AM | Updated: Sep 12, 2019 09:17 AM

Gariaband

गरियाबंद जिले से तेंदुए के दो जिंदा शावकों को रायपुर में बेचने ला रहे तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है।

रायपुर. गरियाबंद जिले के मैनपुर से तेंदुए के दो जिंदा शावकों को रायपुर में बेचने ला रहे तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। तस्करों ने शावकों को बेचने के लिए रायपुर में सौदा भी कर लिया था लेकिन पुलिस ने अभनपुर के पास जाल बिछाकर रात 10 बजे आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। देर रात दोनों शावकों को वन विभाग के सुपुर्द कर दिया गया व आरोपियों के खिलाफ वन्य प्राणी अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए पूछताछ जारी की है।

पूरे घटनाक्रम का खुलासा बुधवार देर रात वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने कंट्रोल रूम में किया। बता दें कि यह पहली घटना है जब तस्करों ने जिंदा शावकों को बेचने का सौदा कर लिया था। पुलिस के मुताबिक मोहम्मद साबिर अली पिता अकबर अली तथा राकेश निषाद पिता तोपी निषाद गंज थाना क्षेत्र रायपुर के चूनाभट्टी के रहने वाले हैं। दोनों आरोपी गरियाबंद जिले के मैनपुर से करीब डेढ़ माह के दो शावकों को लकड़ी के डिब्बे में रखकर स्कूटर से रायपुर आ रहे थे।

डिब्बे में पकड़कर ले जा रहे थे तेंदुए के जिंदा शावक, पुलिस को मिली जानकारी तो एेसे दबोचा

जैसे ही आरोपी गरियाबंद से निकले इसकी सूचना पुलिस को मिल गई और पुलिस दोनों का पीछा करती रही, और रायपुर पुलिस को इसकी पूरी जानकारी दे दी। यह भनक लगते ही पुलिस के आला अधिकारियों ने मोर्चा संभाला और अभनपुर के घोट गांव के करीब घेराबंदी कर तस्करों को दबोच लिया।

विदेशी ग्राहकों की तलाश में थे आरोपी
जिंदा शावकों को पकडऩे के बाद से दोनों तस्कर विदेशी ग्राहकों की तलाश में जुटे हुए थे, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। उनके मोबाइल पर विदेशी नंबरों पर शावकों के वीडियों भेजने का सबूत सामने आया है। पकडऩे के बाद आरोपियों के मोबाइल फोन पर फिरोज नाम के व्यक्ति का लगातार फोन आ रहा था, जिले पुलिस मुख्य तस्कर मानकर चल रही है। ये दोनों आरोपी शावकों को ठिकानें पर पहुंचाने के लिए लगाए गए थे। देर रात तक शावकों के खरीददारों का खुलासा नहीं हो पाया है।

डिब्बे में पकड़कर ले जा रहे थे तेंदुए के जिंदा शावक, पुलिस को मिली जानकारी तो एेसे दबोचा

50 हजार रुपए में सौदा करना कबूला
एसएसपी शेख ने बताया कि आरोपियों ने रायपुर के किसी व्यक्ति से मोबाइल फोन और वीडियो भेजकर दोनों शावकों का 50 हजार में सौंदा करने को कबूला है। आरोपियों ने पूछताछ में यह भी बताया है कि दोनों शावकों को उन्होंने 4 अगस्त को अपने कब्जे में ले लिया था और वीडियो बनाकर कई ग्राहकों को भेज चुके थे।