स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बेटे के नामकरण की खुशियां बदल गई मातम में, जब कफन से लिपटकर घर पहुंचे पिता

Bhawna Chaudhary

Publish: Aug 12, 2019 11:25 AM | Updated: Aug 12, 2019 11:25 AM

Gariaband

बेटे के नामकरण संस्कार के दिन पिता का फंदे पर लटकते मिला शव (Father committed suicide)

देवभोग. छत्तीसगढ़ में ऐसा मामला सामने आया जिसमे बेटे के नामकरण संस्कार की खुशियां उस वक्त मातम में बदल गई जब कफन से लिपटकर पिता घर पहुंचे।इस खबर ने सभी को स्तब्ध कर दिया है (Father committed suicide) ।

मिली जानकारी के अनुसार सुकलीभांटा पुराना निवासी चूरन लाल (30) का 15 दिन पहले ही बेटा हुआ था। शनिवार को बच्चे का नामकरण संस्कार का आयोजन रखा था।आयोजन में लगने वाले जरूरी सामान की खरीदी से लेकर मेहमानों को तक बुलावा दे दिया गया था। सुबह आयोजन शुरू करते, उससे पहले चूरन लाल के फंदे में शव लटकने की खबर ने सभी को स्तब्ध कर दिया है।

बताया गया की बेटे का नामकरण संस्कार के एक दिन पहले लापता पिता लापता हो गया, जिसके बाद घरवालों ने काफी खोजबीन भी की थी। शनिवार सुबह उसका शव गांव से आधा किमी दूर पेड़ पर लटका मिला। पुलिस की मौजूदगी में लाश उतार कर पंचनामा किया गया।

थाना प्रभारी सत्येन्द्र श्याम ने कहा कि अपने गमछे से फंदा बना कर मृतक ने आत्महत्या कर ली है। शव को पीएम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। परिजनों के बयान के आधार पर पुलिस ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से मृतक की हरकत असामान्य थी। शराब अधिक सेवन कर रहा था। मर्ग कायम कर मामले की विवेचना की जा रही है।