स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पानी की तेज धार में बह गया 7 साल का मासूम, 22 घंटे बाद मिली लाश, गांव में छाया मातम

Bhawna Chaudhary

Publish: Sep 08, 2019 13:27 PM | Updated: Sep 08, 2019 13:27 PM

Gariaband

पानी की तेज धार में 7 साल का मासूम बह गया था, जिसकी लाश 22 घंटे बाद निकाला गया।लाश देखकर पूरे गांव में मातम का माहौल है।

राजिम. छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में शुक्रवार दोपहर 1 बजे किरवई नहर-नाली में सरस्वती शिशु मंदिर के दूसरी क्लास में पढऩे वाला मासूम बच्चा राहुल साहू पानी की तेज धार में बह गया था, जिसकी लाश 22 घंटे बाद शनिवार सुबह 11.30 बजे गोताखोरों ने काफी मशक्कत के बाद निकाला। लाश देखकर पूरे गांव में मातम का माहौल है। हर कोई इस घटना को लेकर दुख व्यक्त कर रहा है। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

पानी की तेज धार में बह गया 7 साल का मासूम, 22 घंटे बाद मिली लाश, गांव में छाया मातम

राजिम टीआई विकास बघेल ने बताया कि रायपुर, गरियाबंद और राजिम के गोताखोरों टीम के साथ वे स्वयं पूरे समय मौजूद रहे। बच्चा जहां से बहा था उसके ठीक 5 सौ मीटर आगे बरामद हुआ है। लाश को पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। उल्लेखनीय है कि यह मासूम बच्चा स्कूल से छुट्टी के बाद अपने दोस्तों के साथ पुल को पार करते वक्त नहर में बह गया था। उसके साथी घबरा गए और गांव आकर डरे-सहमे सूचना दी।

जैसे ही इसकी सूचना ग्रामीण व राहुल के परिजनों को हुई सब हड़बड़ा गए और मौके पर जाकर राहुल की तलाश करने लगे। देखते ही देखते भीड़ इक्कठा हो गई। राहुल जब नही मिला तब इस घटना की सूचना राजिम पुलिस को दी गई।

मौके पर राजिम से पुलिस बल पहुंची और गोतखोरों की मदद से बच्चे की तलाश शुरू कर दी लेकिन शाम होने और संसाधनों की कमी से गोताखोर बच्चे को ढूंढ नही पाए थे। शनिवार सुबह से ही राजिम टीआई बघेल अपने मातहत एएसआई खेमलाल साहू, महिला आरक्षक सविता खरे, नोहर ठाकुर, चित्रसेन मरीसा और गोताखोरों को लेकर पहुंचे। पानी के भीतर सघन अभियान चलाया गया। 11.30 बजे बच्चे का शव मिला।