स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

VIDEO: ओवरब्रिज निर्माण के दौरान ढह गई पुल की दीवार, बड़ा हादसा टला

arun rawat

Publish: Jan 17, 2020 12:51 PM | Updated: Jan 17, 2020 12:51 PM

Firozabad

— फिरोजाबाद के शिकोहाबाद का मामला, पीडब्ल्यूडी द्वारा बनवाया जा रहा है ओवरब्रिज।

फिरोजाबाद। फिरोजाबाद के शिकोहाबाद में ठेकेदार की लापरवाही के चलते बड़ा हादसा होने से टल गया। ओवरब्रिज के निर्माण के दौरान पुराने पुल के समीप से मिट्टी का कटान अधिक कर दिए जाने के कारण पुराने पुल को सपोर्ट देने वाली दीवार पानी अधिक आ जाने के कारण ढह गई। इसमें पेड़ और विद्युत पोल उखड़ गए।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

शिकोहाबाद का है मामला
शिकोहाबाद नगर के स्टेशन रोड पर नहर के पुल के पास बन रहे ओवरब्रिज के चलते पुराने पुल के पास की दीवार ढह गई। इससे वहां पर खड़े पीपल का पेड़ के साथ ही बिजली के खंभे धराशाई हो गए। पुराने पुल को सपोर्ट करने वाली दीवार ढह जाने से नहर का पानी पुल के नीचे की मिट्टी का कटान करते हुए बह रहा है। इससे पुल के क्षतिग्रस्त होने का खतरा बढ़ गया है। एसडीएम ने अधिकारियों को लापरवाही पर कड़ी फटकार लगाई है।

दूसरे पुल का हो रहा निर्माण
स्टेशन रोड पर पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा पुराने पुल के सहारे दूसरे पुल का निर्माण कर रही है। उसके लिए ठेकेदार ने नहर पर पुल बनाने के लिए पटरी के सहारे मिट्टी का कटान करवा दिया। जिसके बाद नहर में पानी आने से स्थिति खराब होती चली गई। नहर के पानी से मिट्टी का कटान शुरू हो गया। बुधवार की रात में हुई तेज बरसात के चलते मिट्टी धंसने लगी जिससे पुराने पुल के सहारे लगे पीपल का पेड़ गिर पड़ा। पीपल के पेड़ के साथ ही वहां लगे हाईटेंशन लाइन के दो पोल भी जमीन पर गिर पड़े। इससे वहां अफरा-तफरी मच गई।

बंद कर दी विद्युत सप्लाई
पुराने पुल को मजबूती देने को बनाई गई दीवार ढह गई। इससे पुराना पुल बहुत कमजोर हो गया। पेड़ के गिरने से स्टेशन रोड पर जाम लग गया। इसकी सूचना पर पहुंचे अधिकारियों ने पेड़ को कटवा कर रोड को साफ कराया। विद्युत पोल गिरने से जहां क्षेत्र की बिजली सप्लाई को बंद कर दिया गया। जिससे रात में स्वामी नगर क्षेत्र सहित कई इलाकों की बिजली गुल रही।

एसडीएम ने लगाई फटकार
एसडीएम एकता सिंह और सीओ इंदुप्रभा ने मौके पर पहुंची। सिंचाई विभाग के एसडीओ अनवर अली भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों पर आरोप लगाया कि उन्हें पत्र लिखकर नहर के पुल को मजबूती करने के लिए कहा गया था। जो मिट्टी का कटान हो रहा है उसे नहीं रोका गया तो पुराना पुल क्षतिग्रस्त हो सकता है। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया। इसके चलते पुल को मजबूती के लिए बनी दीवार भी ध्वस्त हो गई है। एसडीएम ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को बुलाने का प्रयास किया लेकिन कोई भी मौके पर नहीं पहुचा। एसडीएम ने लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवाई की बात कही है।

[MORE_ADVERTISE3]