स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भाजपाइयों ने राज्यपाल के नाम दिया ज्ञापन, बोले राफेल मामले में माफी मांगें राहुल गांधी

Amit Sharma

Publish: Nov 16, 2019 19:11 PM | Updated: Nov 16, 2019 19:11 PM

Firozabad

- राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर की थी अमर्यादित टिप्पणी, उसे लेकर भाजपाइयों में है रोष।

फिरोजाबाद। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा दिए गए अमर्यादित बयानवाजी को लेकर भाजपाइयों ने शनिवार को डीएम कार्यालय में राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर राहुल गांधी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। साथ ही देशवासियों से माफी मंगवाए जाने की भी मांग की। भाजपाइयों का कहना है कि राफेल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने भी हरी झंडी दे दी और डील को सही कराकर दिया है। ऐसे में राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए।

यह भी पढ़ें- शरारती तत्वों ने की फिजा बिगाड़ने की कोशिश, आंबेडकर प्रतिमा की क्षतिग्रस्त

ये बोले भाजपाई
जिलाध्यक्ष मानवेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि राफेल मामले पर पुर्नविचार संबंधी याचिकाओं को खारिज करते हुये माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने अपने निर्णय में इस मामले पर जांच की मांग को बेवजह तथा गैर जरूरी बताया था। न्यायालय द्वारा दिसम्बर 2018 में भी फैसला दिया जा चुका है। बताया कि कांग्रेस पार्टी पहले भी अदालत में मुंह की खा चुकी है और उसका झूठ देश के सामने उजागर हो चुका है। कांग्रेस पार्टी के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी ने लगातार झूठ बोलकर देश की जनता को गुमराह करने का कार्य किया। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिये भी मर्यादाहीन शब्दों का प्रयोग किया। कार्यकर्ताओ ने राहुल गांधी मुर्दाबाद के नारे भी लगाए।

यह भी पढ़ें- स्कूली बच्चों का ऐसा वीडियो हो रहा वायरल, शिक्षा विभाग के अधिकारियों को नहीं बन रहा जवाब देते

ये रहे मौजूद
इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष मानवेन्द्र प्रताप सिंह, महानगर अध्यक्ष कन्हैयालाल गुप्ता, उदय प्रताप सिंह क्षेत्र मंत्री, ज्ञानप्रकाश श्रीवास्तव, सुनील विधौलिया, उदय गुप्ता दक्षिण मण्डल अध्यक्ष, धर्मेंद्र यादव, आरडी सिंह चौहान, सुरेश बाबू कठेरिया, भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष देवेश भारद्वाज, नमन बंसल, नीरज उपाध्याय, भूरी सिंह राठौर, धर्मवीर अरोरा, संजय कुशवाह, दिलीप सिंह, महेंद्र सिंह, प्रदीप चक संग काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

[MORE_ADVERTISE1]