स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Karwa Chauth 2019: करोड़ों में पहुंचा चूड़ी कारोबार, करवाचौथ को लेकर बढ़ गई डिमांड

Amit Sharma

Publish: Oct 17, 2019 10:15 AM | Updated: Oct 17, 2019 10:15 AM

Firozabad

— फिरोजाबाद में तैयार होने वाली कांच की चूड़ियों की खनक बढ़ी लेकिन अन्य उत्पादों की डिमांड कम हुई है।

फिरोजाबाद। सुहागनों का प्रतीक मानी जाने वाली कांच की चूड़ियां फिरोजाबाद में तैयार होती हैं। अभी तक चूड़ी कारोबार करोड़ों में पहुंच चुका है। इस बार बाहर से चूड़ियों की डिमांड बढ़ जाने के कारण कारखानों में तेजी से काम कराया गया। मजदूरों ने दिन रात मेहनत कर चूड़ियां तैयार कीं। इस बार अन्य वर्षो के सापेक्ष चूड़ी कारोबार काफी अच्छा रहने से कारखानेदारों के चेहरों पर खुशी है।

आज मनेगा करवाचौथ का पर्व
करवाचौथ सुहागिनों का पर्व है। इसे महिलाएं अपार उत्साह के साथ मनाती हैं। करवाचौथ पर महिलाएं रंग बिरंगी चूड़ियां पहनती हैं। इन चूड़ियों को सुहाग का प्रतीक माना जाता है। इसलिए करवाचौथ पर कांच की चूड़ियों की भरपूर बिक्री होती है। इस बार करवाचौथ पर कांच नगरी का चूड़ी कारोबार अच्छा रहा है। सुहागिनों का यह पर्व शहर के चूड़ी कारोबारियों को करोड़ों का कारोबार करा रहा है।

बढ़ गई चूडियों की मांग
चूड़ी कारोबारी विवेक मित्तल बताते हैं आर्डर का 80 फीसदी माल बाहरी राज्यों के कारोबारियों को भेज चुके हैं। शेष माल को पैक कर भेजने की तैयारी की जा रही है। इस समय कारोबारी माल तैयार कर बाहरी कारोबारियों के पास भेजने में जुटे हुए हैं। वहीं दुकानदार अपनी दुकानों पर महिलाओं को चूड़ियां बेच रहे हैं। बिक्री अच्छी होने से कारोबारियों की व्यस्तता काफी बढ़ गई है।

इन राज्यों को भेजी गई चूड़ियां
उद्यमी राजेश अग्रवाल बताते हैं कि करवा चौथ को लेकर कांच नगरी से उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, गुजरात, दिल्ली, पंजाब हिमाचल प्रदेश में चूड़ियों की डिमांड अच्छी रही है। इन राज्यों से चूड़ी कारोबारियों को आर्डर भी काफी अच्छे मिले हैं। करवाचौथ पर लाल, महरून रंग व रानी कलर की चूड़ियों की डिमांड ज्यादा रही है। इस बार ईस्टमेन कलर की चूड़ियों की बिक्री भी काफी बढ़ी है।

इस बार बढ़ा पांच करोड़ का कारोबार
कारोबारियों की मानें तो करवा चौथ पर चूड़ी कारोबार पिछले साल से अच्छा रहा है। गली बौहरान के चूड़ी कारोबारी अनिल गुप्ता कहते हैं कि करवा चौथ का हम कारोबारी पूरे साल तक इंतजार करते हैं। इसी पर्व पर चूड़ियों की भरपूर बिक्री होती है। चूड़ी कारोबारी अनिल कहते हैं कि इस बार करवा चौथ पर बाहरी राज्यों में शहर से करीब 25 करोड़ का चूड़ी कारोबार हो चुका है। अभी स्थानीय स्तर पर करवा चौथ तक चूड़ियों की बिक्री चलती रहेगी। पिछले साल यही कारोबार करीब 20 करोड़ रुपये का रहा था।