स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

VIDEO: आगरा के हॉस्पिटल मालिक ने टूंडला में विधवा से किया दुष्कर्म का प्रयास, पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज

suchita mishra

Publish: Sep 23, 2019 10:38 AM | Updated: Sep 23, 2019 10:38 AM

Firozabad

— पीड़िता का ननदोई है आरोपी आगरा का डॉक्टर, घर में घुसकर महिला ने छेड़छाड़ का लगाया आरोप।

फिरोजाबाद। आगरा के नामचीन अस्पताल के डॉक्टर मालिक पर उसकी की महिला रिश्तेदार ने दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाया है। मामले को लेकर पुलिस ने आरोपी चिकित्सक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। महिला के पति की पूर्व में मौत हो चुकी है। वह अपनी वृद्ध सास के साथ घर में रहती थी। डॉक्टर रिश्तेदार पर सास को जबरन अपने साथ ले जाने का आरोप भी महिला ने लगाया है।

यह भी पढ़ें—

टूंडला विधानसभा उप चुनाव को लेकर आचार संहिता जारी न होने से परेशान प्रत्याशी

यह है पूरा मामला
फिरोजाबाद के थाना टूण्डला क्षेत्र निवासी एक महिला ने अपने नंदोई प्रिया नर्सिंग होम के मालिक डॉ. राजीव कुमार पर घर मे घुसकर छेड़छाड़ करते हुए दुष्कर्म के प्रयास का संगीन आरोप लगाते हुए न्यायालय के आदेश पर मुकदमा दर्ज कराया है। मामला हाई प्रोफाइल होने के नाते पुलिस ने मुकदमा लिखने से कतराती रही। वहीं अब पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

थाना टूंडला क्षेत्र का है मामला
मामला थाना टूण्डला क्षेत्र के लाइनपार निवासी 29 वर्षीय विधवा महिला ने बताया कि उसके ससुर और पति की मृत्यु होने के बाद वह अपनी सास के साथ ससुराल में रह रही है। दो मई 2019 को उसका नंदोई डॉ. राजीव कुमार जो कि आगरा में प्रसिद्ध प्रिया नर्सिंग होम का मालिक है मेरे घर आया और मेरी सास को आंखों की जांच कराने के बहाने अपने साथ आगरा ले गया।

घर पर आया डॉक्टर
उसके बाद 12 मई को रात आठ बजे अपनी कार से अकेला मेरे घर टूण्डला आया। उस वक्त मैं घर मे अकेली थी उसने घर का दरवाजा खटखटाया क्योकि वह मेरे रिश्ते में ननद के पति थे इसलिए मैंने दरवाजा खोल दिया और उनको घर मे बैठाकर उनका आदर सत्कार किया। उसके बाद उसने पानी मांगा जैसे मैं पानी लेने मुड़ी इतने में उसने मुझे पीछे से बुरी नियत से पकड़ लिया और मेरे साथ जबरन दुष्कर्म करने का प्रयास करने लगा।

शोर मचाने पर एकत्रित हुए लोग
मेरे शोर मचाने पर आस पड़ोस के लोग एकत्रित हो गए तो वह मुझे छोड़कर जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गया। इस घटना की शिकायत पीड़िता ने थाना टूण्डला में कई बार की क्योंकि मेरा नंदोई एक रसूख वाला व्यक्ति है जिसके चलते पुलिस ने उसके खिलाफ कोई कार्यवाही नही की। बाद में मैंने न्यायालय की शरण लेकर मुकदमा दर्ज कराया है।