स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भुजरिया पर्व : यहां की सड़कों पर अलग ही अंदाज में दिखेंगी सनि, कैटरीना, करीना और दीपिका!

Devendra Kashyap

Publish: Aug 16, 2019 17:43 PM | Updated: Aug 16, 2019 18:38 PM

Festivals

Bhujaria festival 2019 : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार को सड़कों पर सनि, कैटरीना, करीना और दीपिका दिखेंगी! सड़कों में ठुमके लगाएंगी।

मध्य प्रदेश ( madhya pradesh ) की राजधानी भोपाल ( Bhopal ) में शनिवार को सड़कों पर सनि, कैटरीना, करीना और दीपिका दिखेंगी! सड़कों में ठुमके लगाएंगी। अब आप सोच रहे होंगे कि क्या सच में पूरा बॉलीवुड राजधानी की गलियों और चौराहों पर उतर जाएगा। दरअसल, भोपाल की सड़कें शनिवार आम दिनों से अलग नजर आएगी। फिल्मी सितारों के गेटअप में प्रदेश भर के किन्नर ( kinner ) सड़क पर नाचते-गाते नजर आएंगे।

Bhujaria


एक साथ सड़क पर क्यों उतरते हैं प्रदेश भर के किन्नर?

बताया जाता है कि राजा भोज के शासन काल में भोपाल में जब सूखा पड़ा तो अकाल से मुक्ति पाने के लिए ज्योतिषाचार्य ने राजा भोज से किन्नरों से भुजरिया ( Celebrating Bhujaria celebrations ) कराने का आग्रह किया। कहा जाता है कि तब से ही यह परंपरा भोपाल में चली आ रही है।

Bhujaria

 

राखी के दो दिन बाद मनाया जाता है भुजरिया पर्व

भुजरिया पर्व ( bhujaria ) राखी ( Raksha Bandhan ) के दो दिन बाद मनाया जाता है। इस पर्व की तैयारी राखी से लगभग 12 दिन पहले से ही की जाने लगती है। इस दौरान गेहूं के दानों को छोटे-छोटे पात्रों में अंदर मिट्टी में अंकुरित होने के लिए रख दिया जाता है।

Bhujaria

 

बुधवाड़ा किन्नर घराने से शुरू होता कारवां

यह कारवां भोपाल शहर के बुधवाड़ा किन्नर घराने से शुरू होता है और शहर के तालाब के पास मंदिर तक चलता है। इस दौरान किन्नरों की टोलियां मंगल गीतों पर झूमते हुए चलती हैं।

Bhujaria

 

भुजरिया लेना शुभ मानते हैं लोग

साल में एक बार होने वाले इस त्यौहार पर खुद को आकर्षक दिखाने के लिए किन्नर कपड़े और प्रसाधन पर जमकर पैसे खर्च करती हैं। किन्नरों के आशीर्वाद की मान्यता होने के कारण लोग भुजरिया ( bhujaria perv ) लेना शुभ मानते हैं। इस पर्व में शामिल होने के लिए मध्य प्रदेश के अलावा राजस्थान, गुजरात, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों के किन्नर भोपाल पहंचे हैं।