स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सिखों पर फायरिंग के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने की अपनी गिरफ्तारी की पेशकश

Prateek Saini

Publish: Feb 22, 2019 14:56 PM | Updated: Feb 22, 2019 14:56 PM

Faridkot

इस मामले की जांच कर रही एसआईटी ने पूर्व पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी को समन भेजा...

 

 

(चंडीगढ,फरीदकोट): अकाली-भाजपा सरकार के दौरान 14 अक्टूबर 2015 को फरीदकोट जिले के बेहबल कलां और कोटकपुरा में गुरूग्रंथ साहिब की बेअदबी के विरोध में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करते सिखों पर पुलिस फायरिंग के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने अपनी गिरफ्तारी की पेशकश की है। इस बीच मामले की जांच कर रही एसआईटी ने पूर्व पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी को समन भेजा है। सैनी को 25 फरवरी को बुलाया गया है।

बादल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह जांच का राजनीतिक ड्रामा बंद करें और मुझे बताएं कि अपनी गिरफ्तारी के लिए मैं कहां पहुंचू। उन्होंने कहा कि जांच शुरू होने से पहले ही मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड और अन्य कांग्रेस नेता उन्हें दोषी घोषित कर रहे थे। इसी से समझा जा सकता है कि जांच कितनी सही होगी। बादल ने पुलिस महानिदेश दिनकर गुप्ता को फोन पर कहा कि वे गिरफ्तारी के लिए उपलब्ध है।